Allegation on Gorakhpur Police of Forcing to Register Accident Case instead of Murder

Local

पुलिस बोली, हत्या को बता दो एक्सीडेंट तो दिला देंगे मुआवजा

Sat 20-May-2017 07:41:00

- बांसगांव एरिया में टेंट कर्मचारी की कर दी गई पीट- पीटकर हत्या

- गद्दे के नीचे से निकली डेड बॉडी, केस दर्ज करने से कतराती रही पुलिस

GORAKHPUR: बांसगांव एरिया के बदरा निवासी टेंट हाउस कर्मचारी सचिन की पीट- पीटकर हत्या कर दी गई। उसकी डेड बॉडी गद्दे के भीतर छिपाई हुई मिली। परिजनों की सूचना पर जांच करने पहुंची पुलिस ने हत्या के बजाय एक्सीडेंट की तहरीर देने का दबाव बनाया। एक्सीडेंट का मुकदमा दर्ज कराने पर पुलिस ने मुआवजा दिलाने का भी लालच दे डाला।

गद्दे के नीचे दबी मिली डेड बॉडी

गुरुवार को क्षेत्र के डांगीपार में टेंट हाउस का सट्टा बुक था। अपने अन्य साथियों संग सचिन भी गांव में सजावट करने गया। उसके साथ सहयोगी राजकुमार और उपेंद्र भी गए थे। शुक्रवार की सुबह ट्रैक्टर- ट्राली पर चारपाई और गद्दा लादकर टेंट कर्मचारी लौट रहे थे। रास्ते में ड्रम गिरने की बात कहकर टेंट हाउस मालिक सुभाष ने वाहन रुकवा लिया। इस दौरान उन्होंने सचिन के बारे में पूछा तो साथियों ने बताया कि कहीं चला गया है। टेंट हाउस का सामान लेकर कर्मचारी गोदाम पर पहुंचे। गद्दा उतारने पर ट्राली के भीतर से डेड बॉडी मिली। उसके सिर और बदन पर चोट के निशान थे। हत्या का आरोप लगाते हुए सचिन के परिजन रोने लगे। मौके पर पहुंची बांसगांव पुलिस हत्या को दुर्घटना बताते हुए तहरीर देने का दबाव बनाने लगी। पुलिस इस कोशिश में जुटी रही कि मामला किसी तरह से निपट जाए।

वर्जन

मैंने गांव में पहुंचकर मामले की जानकारी ली है। जांच पड़ताल के बाद कार्रवाई की जाएगी।

- ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी, एसपी ग्रामीण

inextlive from Gorakhpur News Desk

Related News