पिथौरागढ़ में बादल फटने से दो दर्जन मकान क्षतिग्रस्त

Sat 12-Aug-2017 07:41:13

- दो दर्जन परिवारों ने सरकारी स्कूलों में ली शरण

- लामबगड़ में मलबा आने से 12 घंटे बंद रहा बदरीनाथ हाइवे

DEHRADUN: उत्तराखंड में बारिश और भूस्खलन से जनजीवन प्रभावित हुआ है। कुमाऊं के पिथौरागढ़ में डीडीहाट और धारचूला तहसील में तीन स्थानों पर बादल फटने से दो दर्जन मकान क्षतिग्रस्त हो गए, जबकि तीन पैदल पुलिया बह गईं। करीब दो दर्जन परिवारों को सरकारी स्कूलों में शरण दी गई है।

कोसी नदी में बहा किशोर

उत्तरांखड में बारिश ने मुसीबत बनकर बरस रही है। नैनीताल जिले में बैंक से घर लौट रहा एक किशोर कोसी नदी में बह गया। वहीं, बदरीनाथ के पास लामबगड़ में मलबा आने से क्ख् घंटे यातायात बंद रहा। भारी बारिश की आशंका को देखते हुए कुमाऊं में प्रशासन ने भूस्खलन के मद्देनजर हल्द्वानी- अल्मोड़ा हाईवे पर क्फ् अगस्त तक आवाजाही पर रोक लगा दी है। वाहनों को वैकल्पिक मार्ग से भेजा जाएगा। इधर, राजधानी देहरादून से ख्0 किलोमीटर दूर भट्टा गांव के पास मलबा आने से छह घंटे मसूरी- देहरादून मार्ग पर आवाजाही बाधित रही। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह के अनुसार अगले दो दिन प्रदेश में भारी वर्षा होने की संभावना है। देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, चम्पावत, नैनीताल, पिथौरागढ़ और ऊधमसिंह नगर सहित कई स्थानों पर भारी बारिश के आसार बने हुए हैं।

inextlive from Dehradun News Desk

 
Web Title : Disaster In Pithoragarh