Five training drills that allows Ravindra Jadeja to develop fitness

Sports

5 ट्रेनिंग ड्रिल, जो आजकल कर रहे हैं रविन्‍द्र जडेजा

Thu 18-May-2017 01:20:00

कहते हैं जो शोहरत की सही कीमत नहीं चुकाते ये उसे छोड़ कर चले जाती है। इसीलिए कामयाब लोगों को इसे बनाये रखने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। ऐसा ही कुछ आजकल कर रहे भारतीय क्रिकेट टीम के सर जडेजा यानि रवींद्र जडेजा। अपने खेल का स्‍तर बनाये रखने के लिए रवींद्र कुछ खास किस्‍म की एक्‍सरसाइस कर रहे हैं ताकि आने वाली चैंपियंस ट्रॉफी में वो अपना बेस्‍ट दे सकें। आइये जाने उनकी पांच फिटनेस ड्रिल्‍स के बारे में।

Speed development
ये मॉर्डन क्रिकेट का अहम् हिस्‍सा बन चुका है कि आपको बेहतर खिलाड़ी बनना है तो अपनी गति पर काम करना पड़ेगा। अगर आपको विकटों के बीच तेजी से भागते हुए रन चुराने हैं या फिर चपलता से दौड़ते हुए मैदान पर फील्‍डिंग के दौरान रन रोकने और कैच पकड़ने हैं, तो आपकी गति अच्‍छी नहीं सर्वश्रेष्‍ठ होनी चाहिए और आजकल जडेजा इसी के अभ्‍यास में लगे हुए है। वैसे भी आईपीएल 10 में वो अपने इस कौशल का कमाल कई मौकों पर दिखा चुके हैं। इसके लिए वो एक खास किस्‍म की ड्रिल कर रहे हैं जिसमें उन्‍हें कम समय में तीव्रतम गति पाने का अभ्‍यास किया जाता है।

Box Jumps
आपने आजकल फील्‍ड पर क्रिकेटर्स को एक खास किस्‍म की  चपलता से हवा में उछल कर गेंद पकड़ते देखा होगा। आइपीएल 10 में तो कई बार ऐसे नजारे मैच का मजा दुगना कर देते हैं। जडेजा भी इस कला में एक्‍सपर्ट बनना चाहते हैं इसलिए वो एक विशेष एक्‍सरसाइज कर रहे हैं जिसे बॉक्‍स जंप कहा जाता है। इसमें प्लायो बॉक्स की चेन के ऊपर से कूदते हुए आगे जाना होता है। ये सुनने में जितना आसान लगता है उतना होता नहीं है। जडेजा इस एक्‍सरसाइज के जरिए अपने पैरों को मजबूत और फ्लेक्‍सेबल बना रहें ताकि वो भी ऊंचे उछल कर गेंद पकड़ सकें।
5 महान क्रिकेटर जो अपने करियर में वर्ल्‍ड कप नहीं जीत पाए लेकिन चैंपियंस ट्राफी अपने नाम किया

Side touches
भारी भरकम शरीर आधुनिक क्रिकेट में आपको कभी कामयाब नहीं बनने देगा क्‍योंकि ये आपकी फ्लेक्‍सिबिलटी को कम कर देता है। ये बात जडेजा अच्‍छी तरह से जानते हैं और इसीलिए वो साइड टच की एक्‍सरसाइज कर रहे हैं। इस एक्‍सरसाइज में एक प्लायो बॉक्स पर वो अपना लेफ्ट लेग बॉक्‍स पर रखते हैं और राइट लेग जमीन पर रखते हैं। इसके बाद वो पैरों को एक निश्‍चित क्रम में तेजी से बदलते हैं। ये एक्‍सरसाइज वे तीन सेट में दिन में दस बार करते हैं। इससे उनकी बॉडी फिट और स्‍लिम रहती है।
दावा! यह खिलाड़ी आंखें बंद करके भी ठोक सकता है शतक

Maximising Aerobic velocity
ये एक्‍सरसाइज जडेजा को अधिकतम ऑक्‍सीन के कंजंम्‍शन के साथ अधिकतम गति पाने में मदद करती है। इसके लिए जडेजा  140 मीटर के ट्रैक के दोनों छोर पर 20 मीटर की दूरी पर कोन लगा देते हैं और और फिर जितना तेज गति से भाग सकते हैं भागते हुए फेंफडों में ज्‍यादा से ज्‍यादा ऑक्‍सीजन भर कर अपनी गति को नियंत्रित करते हैं और कोन्‍स के इर्द गिर्द भागते हैं।
मैदान छोड़ फैंस के पास भागे कोहली, दे आए अपना 'मैन ऑफ द मैच' अवार्ड

Wide to Narrow squat jumps
agility ladder लगभग हर क्रिकेटर और खिलाड़ी रखता है, ताकी उसकी चुस्‍ती फुर्ती बनी रहे, लेकिन जडेजा इस पर अपनी खास एक्‍सरसाइज के जरिए और अधिक बेहतर परिणाम पाने के लिए करते हैं। ये एक्‍सरसाइज उनकी फील्‍डिंग के दौरान चुस्‍ती और फुर्तीले रिएक्‍शन को बढ़ाती है। इस एक्‍सरसाइज के लिए वो agility ladder के बॉक्‍सेज के अंदर बाहर तेजी से कूदते हैं, और उसके साथ ही उसी स्‍पीड से एक खाने में आगे भी बढ़ते जाते हैं।

 

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

Related News