Fraud in online shopping in Agra

Local

दिवाली पर ऑनलाइन खरीदारी से यूं निकल सकता है दिवाला?

Thu 12-Oct-2017 07:12:15

दिवाली पर आपका दिवाला निकालने के लिए साइबर शातिर एक्टिव हैं.

आगरा:  ई-कॉमर्स वेबसाइट के जरिए निशाना बना रहे हैं. ई-कॉमर्स वेबसाइट पर आप कोई प्रोडक्ट बुक करते हैं, लेकिन पार्सल पहुंचने पर आपको ईट-पत्थर मिलते हैं. शहर में पूर्व में कई ऐसे मामले सामने आए हैं. हाल ही में कलाल खेरिया में मोबाइल के नाम पर पार्सल में लक्ष्मी मूर्ति भेज दी गई. जिसकी शिकायत के आधार पर पुलिस ने भी छानबीन शुरू कर दी है. ऐसे में किसी भी धोखाधड़ी से बचने के जरूरी है कि ऑनलाइन शापिंग के दौरान आप विशेष सतर्कता बरतें.

 

वेबसाइट की साख परखें

वेब पर आज ई-कॉमर्स वेबसाइट की संख्या हजारों में है. ऐसे में जरूरी है कि ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान कोई भी प्रोडक्ट खरीदते समय हर छोटी-बड़ी गतिविधि का ध्यान रखा जाए. अगर आप अक्सर ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं. कोई नई ई-कॉमर्स वेबसाइट दिखती है, तो उससे शॉपिंग करने से पहले उसकी विश्वसनीयता परख लें.

 

प्रोडक्ट के रिव्यू भी पढ़ें

किसी भी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर प्रोडक्ट खरीदने से पहले उसकी ठीक से जांच-पड़ताल कर लें. इसके लिए जरूरी है कि प्रोडक्ट के रिव्यू पढ़ें. वेबसाइट पर प्रोडक्ट के साथ उसके रिव्यू भी दिए जाते हैं. साथ ही वेबसाइट पर द्वारा वेंडर्स (सामान बेचने वाली संस्था) को भी रेटिंग दी जाती है.

 

ज्यादा डिस्काउंट पर हो जाएं सावधान

अगर किसी वेबसाइट पर डिस्काउंट का परसेंट अधिक हो तो सावधान हो जाएं. वेबसाइट और प्रोडक्ट की अच्छे से छानबीन कर लें. साथ ही डिस्काउंट की पूरी टर्म एंड कंडीशन अच्छे से पढ़ें. जिससे किसी भी छुपी हुई कंडीशन की आपको पहले ही जानकारी मिल सके.

 

पार्सल रिसीव करते समय रखें ध्यान

पार्सल रिसीव करते समय अच्छे से देख लें कि पार्सल सही से पैक है या नहीं. अगर पैकिंग खुली हो तो पार्सल रिसीव न करें. पार्सल रिसीव करने के बाद कोशिश करें कि पैकिंग डिलीवरी ब्वॉयज के सामने ही खोलें. और इसकी वीडियो रिकॉर्डिग भी कर लें. वीडियो से आपके पास मजबूत साक्ष्य रहेगा और मामले में आगे पुलिस को भी मदद मिलेगी.

 

मोबाइल के पार्सल में निकली लक्ष्मी मूर्ति

कलाल खेरिया, ताजगंज निवासी देवेंद्र कुमार शर्मा पुत्र राधा बल्लभ शर्मा ठेकेदार है. 28 सितम्बर को देवेंद्र के पास एक कॉल आया. कॉल करने वाले ने खुद को एक ऑनलाइन साइट से बताया. साथ ही झांसा दिया कि आपका नंबर लकी ड्रॉ में सिलेक्ट हुआ है. इससे एक कंपनी का तीन हजार का मोबाइल सस्ते में ले सकेंगे. आपको 2300 रुपये में दो मोबाइल मिल जाएंगे. कम रुपये में दो मोबाइल देख कर तुरंत बुकिंग कर दिए. कैश ऑन डिलीवरी बुकिंग हुई. एड्रेस कलाल खेरिया पोस्ट ऑफिस का दिया. कुछ दिन बाद डिलीवरी ब्वॉय दिए गए एड्रेस पहुंचा. देवेंद्र ने पेमेंट कर पार्सल रिसीव कर लिया. देवेंद्र ने जब पार्सल खोला तो उसमें मोबाइल कहीं नहीं था. उसमें लक्ष्मी जी की प्लास्टिक की मूर्ति थी. उसने डिलीवरी ब्वॉय से कहा तो उसने बोला कि उसे नहीं पता कि उसमें क्या था. जिस नंबर से कॉल आया था, उस पर फोन किया तो वह नंबर बंद था. पीडि़त ने पुलिस से शिकायत की है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

Related News