hungama at mgm hospital

Local

महिला बीजेपी लीडर ने एमजीएम में जूनियर डॉक्टर्स के साथ की हाथापाई

by Inextlive

Sat 09-Sep-2017 07:41:03

hungama at mgm hospital,jamshedpur news,jamshedpur news today,jamshedpur news live,jamshedpur news headlines,jamshedpur latest news update,jamshedpur news paper today,jamshedpur news live today,jamshedpur city news

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में शुक्रवार को बीजेपी नेत्री प्रीति सिन्हा ने जमकर हंगामा किया और इंटर्न व जूनियर डॉक्टर्स के साथ हाथापाई की। इससे आक्रोशित डॉक्टर्स ने कुछ देर के लिए कामकाज ठप कर दिया और कार्रवाई की मांग पर अड़ गए। इसके बाद दोनों पक्ष के लोग एमजीएम सुपरिंटेंडेंट के चैंबर में शिकायत करने पहुंचे, वहां भी भिड़ंत हो गई। करीब डेढ़ घंटे तक हंगामा होता रहा। दोनों पक्ष एक- दूसरे पर मारपीट करने का आरोप लगाते रहे। मामला इतना बढ़ गया था कि होमगार्ड के जवानों से संभल नहीं रहा था।

मौके पर पहुंची पुलिस

हॉस्पिटल मैनेजमेंट ने तत्काल साकची पुलिस को सूचित किया। पुलिस के पहुंचने पर मामला शांत हुआ। डॉक्टर्स ने प्रीति सिन्हा के खिलाफ साकची थाने में मामला दर्ज कराया है। वहीं डीसी व एसएसपी से मिलकर कार्रवाई करने की मांग की गई है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) के सेक्रेटरी डॉ। मृत्युंजय सिंह का कहना है कि आरोपी बीजेपी नेत्री की जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई, तो डॉक्टर ओपीडी ठप कर देंगे। हंगामे के बाद डॉ। मृत्युंजय सिंह के साथ काफी संख्या में जूनियर डॉक्टर डीसी अमित कुमार से मिले। शिकायत सुनने के बाद डीसी ने एसएसपी अनूप टी। मैथ्यू को कार्रवाई का निर्देश दिया। जूनियर डॉक्टर्स का कहना था कि आए दिन कोई न कोई नेता हॉस्पिटल में घुसकर हंगामा- मारपीट करता है, ऐसे में वे इलाज कैसे करेंगे। डीसी ने इसपर ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

डॉक्टर्स का आरोप

एमजीएम के डॉक्टरों का आरोप है कि महिला एवं प्रसूति विभाग के डाक्टर्स ने बताया कि सुबह 11.30 बजे बीजेपी नेत्री प्रीति सिन्हा पांच- छह युवकों के साथ जबरदस्ती लेबर रूम में घुस गई। वहां मरीज अनिता रूही दास के बारे में पूछताछ करने लगी और अपशब्द बोलने लगी। इस दौरान उसके साथ एक फोटोग्राफर भी था, जो लेबर रूम में भर्ती मरीजों की फोटो खींच रहा था। मना करने पर प्रीति सिन्हा व अन्य लोगों ने इंटर्न व जूनियर डॉक्टर्स के साथ हाथापाई की और बीएचटी (बेड हेड टिकट) पेपर छीन कर भाग गई। डॉक्टर्स का आरोप है कि प्रीति सिन्हा नामक महिला अक्सर इमरजेंसी व लेबर रूम में एक फोटोग्राफर के साथ आती है और फोटो खिंचवाती है। डॉक्टर्स का आरोप है कि इससे पहले भी उसने कई बार गार्ड के साथ धक्का- मुक्की की है। इसलिए उसके खिलाफ जल्द से जल्द उचित कार्रवाई की जानी चाहिए।

बीजेपी नेत्री ने भी दर्ज की शिकायत

घटना के बाद बीजेपी नेत्री प्रीति सिन्हा ने भी साकची थाना में शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें उन्होंने डाक्टर्स पर पीटने व धक्का- मुक्की का आरोप लगाया है। प्रीति का कहना है कि डिमना रोड निवासी अनिता रूही दास आठ माह की गर्भवती है। उसका बच्चा पेट में ही मर गया है। वह हॉस्पिटल में दो दिन से भर्ती है, लेकिन उसका इलाज नहीं किया जा रहा है। परिजन दर- दर भटक रहे हैं, लेकिन उसकी कोई नहीं सुन रहा है। इसी तरह, वार्ड में और भी कई मरीज हैं, जो डॉक्टर के अभाव में भटक रहे हैं। इसका जिम्मेदार कौन है। उसने किसी को नहीं पीटा है, बल्कि उसे 100 से अधिक डॉक्टर्स ने घेरकर पीटा है। सभी पर उचित कार्रवाई होनी चाहिए.

महिला 6 सिंतबर की शाम को भर्ती हुई है। उसकी जांच रिपोर्ट शुक्रवार को आई। उसके आधार पर इलाज शुरू किया जा रहा था कि तब तक प्रीति सिन्हा नामक महिला लेबर रूम में आई और इलाज में बाधा बनी। पीडि़त को खून की भी जरूरत थी। इसकी जानकारी परिजन को दी गई थी.

- डॉ अंजली श्रीवास्तव, एचओडी, गायनेकोलॉजी डिपार्टमेंट

inextlive from Jamshedpur News Desk

Related News
+