CBSE, IIT नहीं कराएंगी एंट्रेंस एग्‍जाम, बनेगा राष्‍ट्रीय परीक्षा एजेंसी

Wed 01-Feb-2017 02:01:01
In Budget 2017 Arun Jaitley proposes National Testing Service to conduct entrance exams
वित्तमंत्री अरुण जेटली वित्तीय वर्ष 2017-18 का बजट लोकसभा में पेश कर रहे हैं। जेटली, मोदी सरकार का चौथा आम बजट संसद में पेश कर रहे हैं। इस बजट में युवाओं, किसानों, महिलाओं, गरीबों और गांव के विकास पर खासा जोर दिया गया है। आईआईटी जैसी बड़ी एंट्रेंस परीक्षाओं के आयोजन के लिए नई बॉडी राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी का एलान भी अरुण जेटली ने किया है।

होगा परीक्षा प्रणाली और शिक्षा में सुधार
बजट पेश करने के दौरान वित्त मंत्री ने कहा कि आईआईटी, सीबीएसई और एआईसीटीसी अब प्रवेश परीक्षाएं नहीं लेंगी। प्रवेश परीक्षा के लिए एक नई संस्था का गठन किया जाएगा। यह एजेंसी पूरे देश के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन करेगी। आर्थिक विशेषज्ञों की मानें तो शिक्षा के गिरते स्तर को सुधारने के लिए यह फैसला लिया गया है। इससे शिक्षा प्रणाली में यकीनन सुधार हो सकता है।

अलग एजेंसी को देंगे जिम्‍मेदारी
देश में अभी तक अलग-अलग बॉडी जैसी सीबीएसई, आईआईटी और एआईसीटीई प्रवेश परीक्षाएं कराती हैं। अब नई संस्था नेशनल टेस्टिंग सर्विस (एनटीएस) को इन सभी परीक्षाओं की जिम्मेदारी दी जाएगी। इन प्रवेश परीक्षाओं में हर साल 40 लाख छात्रों से ज्यादा बैठते हैं।

इंफॉर्मल से फॉर्मल इकोनॉमी की तरफ जाने की कोशिश
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट पेश करते हुए कहा कि हमारी सरकार को जनता ने बड़ी उम्मीदों के साथ चुना था। इन उम्मीदों में महंगाई रोकने और भ्रष्टाचार खत्म करने जैसी उम्मीदें शामिल थीं। पिछले ढाई साल में हमारा मिशन अच्छी तरह से गवर्नेंस देने का ही रहा है। हमने इंफॉर्मल से फॉर्मल इकोनॉमी की तरफ जाने की कोशिश की है। ब्लैकमनी के खिलाफ हमने लंबी लड़ाई लड़ी है। हमें जनता से काफी सपोर्ट मिला है। अब हम जनता की भलाई के लिए और भी बहुत कुछ करने के इच्छुक हैं।

Business Newsinextlive fromBusiness News Desk

Web Title : In Budget 2017 Arun Jaitley Proposes National Testing Service To Conduct Entrance Exams