jharkhand girl found in ambala and one human trafficker arrested

Local

अंबाला में मिली झारखंड की बेटी, एक दलाल धरा गया

Wed 11-Oct-2017 03:44:01

झारखंड के बच्चे-बच्चियों को बड़े शहरों में बेचने का धंधा बदस्तूर जारी है. मानव तस्कर परिजनों को कुछ रुपए थमाकर इन बच्चों का दिल्ली-मुंबई जैसे शहरों में खरीद-फरोख्त कर रहे हैं.

Ranchi: ऐसे ही एक मामले का भंडाफोड़ करने में पुलिस को सफलता मिली है. झारखंड क्राइम ब्रांच की टीम ने हरियाणा के पंचकुला से एक बच्ची को बरामद किया है. इस मामले में एक की गिरफ्तारी भी हुई है. पुलिस को अब उन लोगों की तलाश है, जो झारखंड के मासूमों को बड़े शहरों में काम का झांसा देकर बेच रहे हैं.

 

दस हजार में किया था सौदा

बच्ची ने पुलिस को बताया कि दो साल पहले उसे एक व्यक्ति दिल्ली लेकर आया था. यहां उसने एक प्लेसमेंट एजेंसी के हवाले हमें कर दिया. इस एवज में उसे दस हजार रुपए मिले थे. इसके बाद प्लेसमेंट एजेंसी ने उसका सौदा सहारनपुर में एक परिवार से 60 हजार रुपए में कर चलती बनी. इस परिवार में न सिर्फ काम लिया जाता था, बल्कि शारीरिक व मानसिक तौर पर प्रताडि़त भी किया जाता था.

 

बच्चों के दलाल सुलेमान की है तलाश

अबतक ह्यूमन ट्रैफिकिंग के मामले में सुलेमान झारखंड के तीन बच्चियों को बेच चुका है. उसकी तलाश झारखंड पुलिस को भी है. बरामद बच्ची ने सीडब्ल्यूसी को बताया कि सुलेमान उसे उठाकर लाया था, जिसने 20 हजार में बच्ची को दिल्ली में मोनिका प्लेसमेंट को बेच दिया था. इसके बाद पतरस और मोनिका ने उसे 60 हजार रूपए में बेच डाला. पुलिस ने इस मामले में पतरस को गिरफ्तार कर लिया है.

Related News