police recovered ten bikes two teenager theif

Local

गजब! कक्षा नौ के छात्र निकले शातिर बाइक चोर

Thu 12-Oct-2017 06:40:18

सोरांव पुलिस ने कुल पांच को पकड़ा, तीन को छोड़ा, दो का चालान एक सिपाही और दूसरा वकील का बेटा, दोनो रिनाउंड स्कूल के छात्र

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: थोड़ा बहुत खेल पुलिस ने कर दिया है. उठाया कुल पांच लोगों को गया था लेकिन चालान करने की बारी आई तो सिर्फ दो को दिखाया गया. इनकी निशानदेही और कब्जे से कुल दस बाइकें बरामद की गई थीं. पुलिस की इसी कामयाबी में सबसे चौंकाने वाला खुलासा है बच्चों की उम्र और पढ़ाई. सभी अलग-अलग स्कूल के छात्र हैं. अलग-अलग स्थानों के रहने वाले हैं. अच्छी भली फैमिली से बिलांग करते हैं. लेकिन, चोरी की लत ने उन्हें रास्ते से भटका दिया. बुधवार को चालान किए गए दोनो को माइनर एज के चलते बाल सुधार गृह भेजा गया है. पुलिस का कहना है कि इनसे मिली जानकारी के आधार पर गैंग के बाकी सदस्यों की तलाश की जा रही है.

 

पुलिस का दावा

एसएसपी की तरफ से जारी किए गए प्रेस नोट के अनुसार वाहन चोरी, लूट और छिनैती के अपराधों पर रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत सोरांव पुलिस ने गोहरी रेलवे क्रासिंग के पास दो छात्रों को चेक करने के लिए रोका तो उन्होंने बाइक मोड़ लिया. इसके बाद पुलिस ने दौड़ाकर उन्हें पकड़ लिया. भागने का कारण उन्होंने बाइक चोरी की होना बताया और बताया कि वे बाइक चोरी गैंग से जुड़े हुए हैं. उन्होंने एक खाली पड़े प्लाट पर उगी झाडि़यों तक ले जाकर चोरी की नौ अन्य बाइकें बरामद कराई. इसमें एसओ सोरांव, चौकी इंचार्ज फाफामऊ समेत अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे.

 

प्रेस नोट के अनुसार पकड़े गए एक ने अपना नाम अंकित सिंह पुत्र अखिलेश सिंह निवासी सेक्टर सी शांतिपुरम लेबर चौराहा और दूसरे ने यश त्रिपाठी उर्फ पुलकित पुत्र जगदीश प्रसाद निवासी सेक्टर बी शांतिपुरम फाफामऊ बताया. उन्होंने गिरोह में चार और सदस्यों के होने की जानकारी दी. इस पर पुलिस उन चारों की तलाश में देर शाम तक जुटी रही. उधर, बड़ी बरामदगी की सूचना मिलने पर थाने में पहुंचे लोगों का कहना था कि इसमें के पिता सिपाही हैं और उनकी पोस्टिंग फतेहपुर में है. दूसरे के पिता एडवोकेट हैं. एक रिनाउंड प्राइवेट और दूसरा सरकारी स्कूल में कक्षा नौ का छात्र है. थाने में मौजूद लोगों के अनुसार पुलिस ने कुल पांच लोगों को पकड़ा था. तीन लोगों की फोटोग्राफ दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के पास सोरांव थाने के हवालात की भेजी गई हैं.

 

अच्छी बाइकों को ये सीधे बेच देते थे और जो खराब होती थीं उन्हें कबाड़ी मार्केट में बेच देते थे. इस गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में दबिश दी जा रही है. इन दोनों ने कुल चार के नाम बताए हैं.

ओम शंकर शुक्ला

एसओ, सोरांव

Related News