मांग रहे थे चंदा, लोग समझ बैठे लुटेरे

Sun 16-Jul-2017 07:41:01

- लूट के बाद महर्षिपुरम में लोगों ने चंदा मांग रहे लोगों को दबोचा

आगरा। थाना सिकंदरा स्थित महर्षिपुरम में दो दिन पहले डॉ। अतुल बंसल के यहां पर बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया था। इसके बाद भी महर्षिपुरम में बदमाशों को पुलिस को कोई खौफ नहीं है। शनिवार को इलाके में संदिग्ध घूमते हुए पकड़े गए। कॉलोनी वासियों ने उनको पकड़ कर पुलिस के सुपुर्द किया है। एक मौके से भाग निकला.

तीन युवक सुबह ही पहुंचे एक घर पर

महर्षिपुरम में शनिवार सुबह साढ़े नौ बजे तीन युवक हाथ में एक रसीद बुक लिए कॉलोनी के चक्कर लगा रहे थे। एक कोठी के आगे गए और डोरवेल बजाई। अंदर से एक बुजुर्ग ने आकर पूछा कौन है तो युवकों ने कहा कि वह भंडारे के चंदे के लिए रुपये जमा कर रहे हैं। इस पर बुजुर्ग चौंक गए क्यों कि इस तरह से कोई चंदा लेने कभी नहीं आया.

सवाल पूछने पर हिचकिचाए

बुजुर्ग ने लोगों को आगे भेज दिया। तीनों युवक एक दो कोठी छोड़ कर आगे बढ़े। यहां पर फिर से एक मकान की घंटी बजाई। अंदर से एक महिला निकली। महिला ने उनसे सवाल जबाव किए तो वह हिचकिचाने लगे। कॉलोनी के एक युवक ने जब उनसे उनका पता पूछा तो उन्होने खुद को बरेली का बताया, लेकिन उनके हाथ में कछला की रसीद बुक थी.

पिटाई कर पुलिस के सुपुर्द किया

लोगों के मन में डॉ। अतुल बंसल के यहां पर हुई लूट की दहशत बनी हुई थी। अधिक सवाल करने पर जब युवक हिचकिचा गए तो लोगों को उन पर संदेह हो गया। लोगों ने उन्हें पकड़ लिया। एक युवक पब्लिक का हाथ छुड़ा कर वहां से भाग निकला। इस पर लोगों का शक और पक्का हो गया। दो पकड़े में आए युवकों की पिटाई कर दी। इसके बाद पुलिस कंट्रोल रूम फोन कर दिया। यूपी 100 की गाड़ी दोनों को थाना सिकंदरा दे आई.

पुलिस कर रही संदिग्धों की जांच

इस मामले में पुलिस का कहना है कि पकड़े गए युवकों में एक 55 वर्षीय व दूसरा 30 वर्षीय है। हाल फिलहाल उनके बदमाश होने की बात निकल कर नहीं आ रही है। पुलिस बरेली पुलिस से उनका इनपुट निकलवा रही है। युवको के बताए पते पर चेक किया जा रहा है.

inextlive from Agra News Desk

 
Web Title : Public Caught Suspected People In Agra