Shopkeeper suicides in GST implementation tension in Agra

Local

जीएसटी से तनाव में आया व्यापारी फंदे पर लटका

Sat 09-Sep-2017 07:40:14

- मनोचिकित्सक से चल रहा था इलाज

- कारोबारियों ने बंद रखा मोतीगंज बाजार

आगरा। जीएसटी लागू होने से तनाव में आया व्यापारी फंदे पर लटका मिला। मॉर्निग वॉक पर निकला किराना व्यापारी घर नहीं लौटा। पुलिस से पेड़ पर लटके होने की जानकारी मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। इस घटना के बाद सिटी के व्यापारी जमा हो गए। घटना के बाद गुस्साए व्यापारियों ने मोतीगंज बाजार बंद कर दिया.

जीएसटी के बाद तनाव में थे

थाना छत्ता, मयूर अपार्टमेंट, जीवनी मंडी निवासी 32 वर्षीय हरीश अग्रवाल पुत्र स्व। सुभाष चंद की मोतीगंज में किराने की दुकान है। अपार्टमेंट में वह अपने बड़े भाई कमलदीप और बहन बबिता व मां के साथ रहते थे। जीएसटी लागू होने के बाद वह तनाव में थे। परिजनों ने बताया कि उनकी मानसिक स्थिति बिगड़ने लगी थी। पिछले कुछ दिनों से मनोचिकित्सकों से इलाज चल रहा था।

पेड़ पर लटका मिला शव

शुक्रवार सुबह वह रोज की तरह मॉर्निग वॉक पर गया था। सुबह साढ़े सात बजे ट्रांसपोर्ट नगर पुलिस चौकी से पहुंचे फोन ने परिजनों के होश उड़ा दिए। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी कि व्यापारी ने पेड़ पर रस्सी के सहारे फांसी लगा ली है। परिजन पोस्टमार्टम हाउस पहुंच गए.

पोस्टमार्टम हाउस में जुटे कारोबारी

घटना की जानकारी होने पर व्यापारी जुट गए। व्यापार मंडल के प्रदेश मंत्री रमन गोयल सहित कई व्यापारी पोस्टमार्टम हाउस पहुंच गए। व्यापारियों ने इस घटना पर मोतीगंज बाजार बंद कर दिया। व्यापारियों का कहना था जीएसटी की वजह से ही उसकी जान गई है। वह, जीएसटी को लेकर काफी घबराए हुए थे.

दादा से बोला था बंद करा दो दुकान

कारोबारी दो दिन पहले अपने दादा रोशन लाल के पास गया था। वह उनसे बोला कि दुकान बंद करा दो नहीं तो वह मर जाएगा।

inextlive from Agra News Desk

Related News