software engeenier bareilly news kidnap by relative

Local

सॉफ्टवेयर इंजीनियर युवती को किडनैप कर पूर्व मंत्री का टॉर्चर

Wed 11-Oct-2017 03:59:55

बरेली कॉलेज के हाल ही में विभागाध्यक्ष बने एक सपा नेता की सॉफ्टवेयर इंजीनियर बेटी को एक सप्ताह से पूर्ववर्ती सरकार में मंत्री रहे उसी के मामा ने कैद कर रखा है.

मामा और परिजन उसकी जबरन सउदी अरब में शादी कराना चाह रहे थे,युवती इनकार कर यूनिवर्सिटी में ही रहने लगी और उसे 15 दिन पहले छोटे ाई के बीमार होने की कॉल कर बुलाया और बरेली से करीब 50 किमी दूर बहेड़ी एरिया के रिछा कस्बे में अगवा कर लिया. इंवर्टिस यूनिवर्सिटी में कप्यूटर सिस्टम कॉर्डिनेटर की जॉब करती थी.

 

डायल 100 पर भी कॉल किया

मौका पाकर युवती ने डायल 100 पर ाी कॉल किया. पुलिस उसे ढूंढती हुई गई ाी पर पूर्व मंत्री मंत्री ने दबाव में युवती को रिहा कराने का कोई प्रयास किए बिना ही लौट आई. इसी बीच युवती के एक ऑडियो कॉल की रिकॉर्डिग सामने आई है. जिसमें वह अपनी परिचित महिला से खुद को बचाने के लिए कॉल कर खुद को रिछा में एक मकान में मां-बाप और पूर्व मंत्री मामा की कैद में बेरहमी से मारपीट की बात कहते हुए गुहार लगाई है कि उसे बचा लिया जाए नहीं तो वो लोग उसे मार देंगे. युवती की कॉल रिकार्डिग पुलिस की एक वरिष्ठ महिला अधिकारी तक पहुंच गई, लेकिन दबाव में कोई कदम उठाने को तैयार नहीं.

मुझे मामा से बचा लो, वह मेरा मर्डर कर देंगे

कॉल रिकॉर्डिग में युवती शबाना (बदला हुआ नाम) एक महिला को आंटी कहकर रोते हुए गुहार लगा रही है कि मामा से बचा लो वह मेरा मर्डर कर देंगे. युवती के मामा पूर्व विधायक और सरकार में मंत्री रह चुके हैं. सिविल लाइंस के आवास विकास में रहते हैं.

 

इंवर्टिस यूनिवर्सिटी के 7000 बच्चों का भविष्य भी दांव पर

किडनैप्ड सॉफ्टवेयर इंजीनियर डेढ़ वर्ष से इंवर्टिस यूनिवर्सिटी में सिस्टम कॉर्डिनेटर थी. यूनिवर्सिटी का इंट्रानेट सिस्टम ऑपरेट करती थी. अधिकतर पासवर्ड उसी के पास थे. करीब15 दिन से उसके न आने से यूनिवर्सिटी के कई जरूरी काम ाी अटक गए हैं. यूनिवर्सिटी के 7 हजार से अधिक बच्चों का भविष्य खतरे में है.

दोस्तों को गूगल लोकेशन तक भेज चुकी

परिजनों से परेशान होकर युवती ने युनिवर्सिटी में ही आवास आवंटित करा लिया था और वहीं रहने लगी थी. कुछ दिन ग्रीन पार्क में अपने घर गई, वहीं से उसकी सहकर्मी युवतियों को मारपीट कर ागा दिया और तब से शबाना कैद में है. उसने दोस्तों का गूगल लोकेशन भी भेजी है.

मुझे एक महिला ने कॉल रिकार्डिग ोजी थी. उसमें एक युवती की आवाज तो है, लेकिन किसी के खिलाफ कोई कंप्लेन आी नहीं मिली है.कंप्लेन आने पर एक्शन होगा.

-नीति द्विवेदी, सीओ थर्ड

स्टॉफ की एक युवती कुछ दिन से यूनिवर्सिटी नहीं आ रही. पासवर्ड ाुलवाने टीम उसके घर गई थी,पुलिस कंप्लेन करूंगा.

उमेश गौतम, चांसलर इंवर्टिस यूनिवर्सिटी

युवती को मर्जी के बिना बंधक बनाया गया है तो गंाीर मामला है, डॉयल 100 पर कॉल की डिटेल पता कराता हूं. रिहा कराया जाएगा.

-जोगेन्द्र कुमार,एसएसपी बरेली

 

पूर्व मंत्री के टार्चर पर एक्शन शुरू

सॉफ्टवेयर इंजीनियर शबाना (बदला नाम) को उसी के परिजनों की सहमति से पूर्व मंत्री मामा के बंधक बना कर टार्चर का मामला ट्यूजडे को गर्मा गया. मामले में परिचतों ने ट्विटर पर पेज बनाकर पीएम और सीएम से युवती को बचाने की गुहार की. इस पर एक्शन लेते हुए एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने युवती की सर्च शुरू करा दी. एसपी रुरल याति गर्ग ने एक टीम बनाकर बहेड़ी के रिछा में बंधक बनाए जाने के ठिकाने पर दबिश दी, हांलाकि पुलिस के पहुंचने से पहले ही युवती को शिट कर दिया गया. पुलिस रात तक उसकी तलाश में जुटी रही.दूसरी तरफ डॉयल 100 पर 4 अक्टूबर को की गई उस कॉल की डिटेल भी जुटाई है,जिसमें उसने रिछा में कैद होने की सूचना दी थी.बहेड़ी विधायक क्षत्रपाल ने भी मामले की जांच की मांग की है.

युवती को टार्चर से बचाने के लिए उसके परिचितों ने ट्विटर पर पेज बना पीएम,सीएम को ट्विीट किया. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट की न्यूज कटिंग के साथ यूपी पुलिस के ट्विटर अकाउंट पर शिकायत पहुंची. इस पर डिस्ट्रिक्ट पुलिस को कार्रवाई के निर्देश मिले. बरेली एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने एसपी रुरल को निर्देश दिए कि अपहृत युवती को मुक्त करा बयान कराएं.

साटवेयर इंजीनयर युवती को बंधक बनाकर रखने की सूचना पर जांच शुरू कर दी है. सीओ बहेड़ी के नेतृत्व में टीम बनाकर तलाश की जा रही है. उसे हर हाल में रिहा कराउंगी. याति गर्ग, एसपी बरेली देहात

Related News