up board result 2017 weird incident 113 students got same marks in Mathematics

News

यूपी बोर्ड रिजल्‍ट 2017: इस स्‍कूल के 113 स्‍टूडेंट्स को मिले एक समान अंक, छात्रों से लेकर अधिकारी सब परेशान

by Chandra Mohan Mishra

Thu 15-Jun-2017 09:50:06

board results,up board result 2017,up board result 10th 2017,up board highschool result 2017,national news,result news,high school,mathematics,education news

एक विद्यालय के 113 छात्रों पर भी 23 अंक का सितम। लापरवाही यूपी बोर्ड की, इससे पहले दो विद्यालयों के 168 छात्र-छात्राओं को गणित में 23 अंक मिलने का मामला आ चुका है सामने।

फैजाबाद: यूपी बोर्ड परीक्षा के मूल्यांकन पर उठ रहे सवाल के बीच विद्यार्थियों पर 23 अंक का सितम जारी है। जिले के केबी सिंह इंटर कालेज के हाईस्कूल के 113 विद्यार्थी इसकी चपेट में हैं। सभी को गणित विषय की लिखित परीक्षा में 23 अंक मिले हैं। इस नए रहस्योद्घाटन ने बोर्ड परीक्षा की कापियों के मूल्यांकन को लेकर बरती जा रही लापरवाही को उजागर कर दिया है। इससे पहले अन्य दो विद्यालयों के कुल 168 विद्यार्थियों को इसी प्रश्नपत्र में 23 अंक मिलने का मामला सामने आ चुका है। जिला विद्यालय निरीक्षक देवीसहाय तिवारी ने बोर्ड के सचिव को पत्र लिखकर पहले के दो विद्यालयों के मामले पर कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

पूराबाजार ब्लॉक के पूरे पहलवान बैसिंहपुर स्थित केबी सिंहपुर इंटर कालेज में तकरीबन 400 विद्यार्थियों ने हाईस्कूल की परीक्षा दी है। इनमें से 113 को गणित विषय की लिखित परीक्षा में समान 23 अंक मिले। इतनी तादाद में छात्रों को 23 अंक मिलने से विद्यालय प्रबंधन अचंभित है। प्रधानाचार्य राजेश कुमार ङ्क्षसह ने बताया कि कुल 113 छात्र-छात्राओं को गणित विषय की लिखित परीक्षा में 23 अंक मिले हैं। उन्होंने इसकी जानकारी मौखिक रूप से जिला विद्यालय निरीक्षक को दी है।

ऑनलाइन ऐसे चेक करें अपना PF बैलेंस

इससे पहले रामपुरभगन के डायमंड इंटर कालेज में 189 छात्र-छात्राओं में से 100 को इसी विषय की परीक्षा में सिर्फ 23 अंक मिले। गणित के इस लिखित प्रश्नपत्र का पूर्णांक 70 है। शहर के निराला नगर स्थित ओपीएस इंटर कालेज में हाईस्कूल के 68 विद्यार्थियों को 23 अंक मिलने का प्रकरण सामने आ चुका है। उधर गुरुवार को डायमंड इंटर कालेज व ओपीएस के प्रधानाचार्य ने 23 अंक पाने वाले विद्यार्थियों की सूची जिला विद्यालय निरीक्षक को प्रत्यावेदन के साथ दी। जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि आवश्यक कार्रवाई के लिए इसे बोर्ड के सचिव को भेज दिया गया। अभाविप के विभाग संयोजक व साकेत महाविद्यालय के छात्रसंघ महामंत्री अनुज श्रीवास्तव ने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में परीक्षार्थियों को किसी भी सूरत में समान अंक नहीं मिल सकते। मूल्यांकन में लापरवाही बरती गई है।

टीना और नीता अंबानी में है इतना अंतर, खूबसूरती से लेकर इंट्रेस्‍ट तक सबकुछ अलग

National News inextlive from India News Desk

Related News
+