UP municipal election in november

Local

मिड नवंबर में हो सकते हैं यूपी में निकाय चुनाव

by Inextlive

Tue 10-Oct-2017 03:47:01

municipal election,up municipal election,municipal election in up,inext,november,dainik,jagran,administration,agra,up news

राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके अग्रवाल ने बताया कि नगरीय चुनाव की अभी तिथि तो घोषित नहीं हुई है, लेकिन 25 अक्टूबर को अधिसूचना जारी हो जाएगी. इसके करीब 35 दिन के अंदर चुनाव कराने होंगे.

आगरा. नगरीय निकाय चुनाव की डुगडुगी बज चुकी है. राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके अग्रवाल ने सोमवार को सर्किट हाउस में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक कर चुनावी तैयारी की समीक्षा की. निष्पक्ष और निर्भीक तरीके से चुनाव संपन्न कराने के लिए अपराधी किस्म के लोगों की हिस्ट्रीशीट खोलने के निर्देश दिए हैं.

 

18 अक्टूबर को होगा अंतिम प्रकाशन

राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके अग्रवाल ने बताया कि नगरीय चुनाव की अभी तिथि तो घोषित नहीं हुई है, लेकिन 25 अक्टूबर को अधिसूचना जारी हो जाएगी. इसके करीब 35 दिन के अंदर चुनाव कराने होंगे. उन्होंने बताया 20 नवम्बर के करीब चुनाव कराए जाएंगे. प्रदेश भर में तैयारी हो चुकी है. मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 18 अक्टूबर को होगा. इसके बाद 25 अक्टूबर को अधिसूचना जारी होगी. उन्होंने बताया कि तीन से चार चरणों में चुनाव होंगे. यह जल्द ही तय हो जाएगा. हालांकि एक जनपद में एक ही चरण में चुनाव होंगे. नगर निगम, नगर निकाय और नगर पालिका के एक जनपद में एक साथ ही चुनाव होंगे.

आगरा जोन की ली मीटिंग

चुनाव आयुक्त ने आगरा जोन के अधिकारियों के साथ चुनावी तैयारी को लेकर समीक्षा बैठक की. इस दौरान उन्होंने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपराधी किस्त के लोगों के ऊपर शिकंजा कसे. चुनाव के दौरान किसी प्रकार की कोई घटना घटित न हो इसका पालन तभी संभव है, जब अपराधी प्रवृति के लोगों पर प्रोपर और समय पर शिकंजा कसा जा सके. राज्य निर्वाचन आयुक्त एसकेअग्रवाल ने बताया कि अपनी ही सिसोर्सिस से चुनाव कराए जाएंगे. बाहर से बाहर की पैरा या अन्य किसी फोर्स को नहीं बुलाया जाएगा.

सांप्रदायिक और जातिगत हिंसा पर रखे नजर

उन्होंने समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए कि सांप्रदायिक और जातिगत हिंसा पर नजर रखी जाए. इस प्रकार की हिंसा चाहे किसी राजनैतिक दल का हो या फिर प्रभावशाली हो. उसके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाए. उन्होंने कहा कि इस प्रकार की हिंसा करने वाले के विरुद्ध नोन वेलेवन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाए.

गलती माफ नहीं की जाए

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि चुनाव के दौरान अधिकारी व कर्मचारी प्रॉडक्टिव रहे. हेलमेट से लेकर अन्य सुरक्षा के इंतजाम रखें. इससे किसी भी स्थिति से निपटा जा सके. उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि चाहे बड़ा हो या छोटा सभी गलती करने वाले अधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी.

नगर निगम के इवीएम से होंगे चुनाव

चुनाव आयुक्त ने बताया कि नगर निगम के चुनाव इवीएम से होंगे. नगर पालिका और नगर निकाय के चुनाव बैलेट पेपर से होंगे. नगर पालिका और नगर निकाय के चुनाव भी ईवीएम से कराए जाते, लेकिन इवीएम पर्याप्त नहीं हैं.

मैसेज से पता चलेगा कौन जीता

चुनाव परिणाम की 25 लाख मतदाताओं को मैसेज के जरिए से ये पता चल जाएगा कि उनके क्षेत्र में कौन जीता है. 25 लाख मतदाताओं के नंबर हैं. इन्हें मैसेज के जरिए बताया जाएगा.

 

खर्च की सीमा तय नहीं

उम्मीदवार चुनाव में कितना खर्च कर सकेगा, इसकी भी अभी समय सीमा तय नहीं की गई. राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके अग्रवाल ने बताया कि चुनाव में एक प्रत्याशी कितना खर्च कर सकेगा, यह जल्द ही तय किया जाएगा.

 

बीएलओ घर घर पहुंचाएंगे पर्ची

विधानसभा और लोकसभा चुनाव के दौरान बीएलओ घर घर जाकर पर्ची पहुंचाते हैं, उसी प्रकार नगरीय निकाय चुनाव में भी बीएलओ घर घर जाकर पर्ची पहुंचाएंगे.

Related News
+