छोटी बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या से पाकिस्तान में भड़का आंदोलन सड़कों पर उतरे लोग

2019-05-22T03:38:00+05:30

पाकिस्तानी में एक 10 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद लोग सड़कों पर उतर आये हैं और प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

इस्लामाबाद (पीटीआई)। पाकिस्तान में 10 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद कथित रूप से हत्या कर दी गई है। इस घटना के बाद मंगलवार को पीड़िता के परिवार वाले और स्थानीय लोग सड़क पर उतर आये और प्रशासन के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। पीड़िता के परिवार वालों ने इस्लामाबाद के तारमारी चौक पर शव को रखकर बच्ची की निर्मम हत्या का विरोध किया। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करने वाले प्रदर्शकारियों ने कहा कि जिला प्रशासन के साथ बातचीत सफल होने के बाद ही वे पीड़ित को दफनाएंगे। पीड़िता के पिता द्वारा दायर एक एफआईआर के अनुसार, उनकी बेटी 15 मई की शाम को इस्लामाबाद के शहजाद टाउन इलाके में खेलने के लिए निकली थी लेकिन वापस नहीं लौटी। इसके बाद 20 मई को लड़की के शरीर पर टार्चर के निशान और घाव पाए गए थे।

बांग्लादेश ने बढ़े राजनयिक तनाव के बाद पाकिस्तानियों को वीजा देना किया बंद
IAF के स्पेशल पैचों के डिजाइनर की कहानी, विंग कमांडर अभिनंदन के स्क्वॉड्रन को मिला नया नाम

पुलिस नहीं दर्ज कर रही थी एफआईआर
पीड़िता के पिता का आरोप है कि हत्या से पहले उनकी बेटी के साथ दुष्कर्म भी किया गया है। पिता का कहना है कि पुलिस दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने या एफआईआर दर्ज करने के बजाय, लड़की के परिवार वालों से ही असंवेदनशील सवाल कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि परिवार ने एफआईआर के लिए नजदीकी पुलिस स्टेशन से लगातार अनुरोध किया था लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया। भारी विरोध के बाद, गृह मंत्री एजाज शाह ने महानिरीक्षक पुलिस (IGP) जुल्फिकार शाह को मामले की जांच करने का आदेश दिया। पुलिस ने बताया कि लापरवाही बरतने और जांच नहीं करने के लिए शहजाद टाउन के स्टेशन हाउस ऑफिसर (SHO) अब्बास राणा को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस ने यह भी कहा कि इस मामले में तीन संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया और उन्हें एक अनजान स्थान पर रखा गया है। गिरफ्तार किए गए लोग इलाके में रहने वाले अफगानी शरणार्थी हैं।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.