सड़क हादसे में प्रिंसिपल समेत तीन की मौत

2019-03-11T06:01:07+05:30

- उत्तराखंड में तीन अलग- अलग सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत

KARNPRAYAG: सैटरडे नाइट तीन अलग- अलग सड़क हादसों में प्रिंसिपल समेत तीन लोगों की मौत हो गई। दुर्घटनाओं की देरी से जानकारी मिलने के कारण समय पर राहत व बचाव कार्य नहीं हो सके।

200 मीटर गहरी खाई में गिरी ऑल्टो

ऋषिकेश- कर्णप्रयाग राजमार्ग कर्णप्रयाग- गौचर के मध्य गलनाऊं के समीप मैक्स दुर्घटना व सोनला- कंडारा ग्रामीण मार्ग पर ऑल्टो कार हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। थाना कर्णप्रयाग के एसएचओ गिरीश चंद्र शर्मा ने बताया कि कर्णप्रयाग- गौचर के मध्य गलनाऊं में अलकनंदा नदी तट पर 200 मीटर खाई में एक वाहन के गिरने की सूचना कुछ मछुवारों ने संडे अपराह्न 12 बजे दी। इस पर मौके पर पहुंचे पुलिस बल व बचाव दल ने खाई में गिरे एक शव बरामद किया। उसकी शिनाख्त खेम सिंह (35) पुत्र अवतार सिंह निवासी कनखुलतल्ला कर्णप्रयाग के रूप में हुई पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए कर्णप्रयाग सीएचसी भेजा है। बताया जा रहा है कि मृतक कर्णप्रयाग से गौचर अपने पिता को लेने जा रहा था। वहीं दूसरी ओर सोनला- कंडारा ग्रामीण मोटर मार्ग पर सैटरडे नाइट में हुए ऑल्टो कार हादसे में उसमें सवार गजेन्द्र सिंह बिष्ट (32) पुत्र माधो सिंह बिष्ट निवासी सोनाली तहसील कर्णप्रयाग व गब्बर सिंह (59) पुत्र त्रिलोक सिंह निवासी ग्राम कांडई (प्रिंसिपल राइंका कोट कंडारा) की मौके पर मौत हो गई। राजस्व क्षेत्र में घटी इस घटना की जानकारी तब लगी जब वाहन में पेट्रोल भरने गए प्रिंसिपल के परिजनों ने इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी कि काफी रात हो चुकी है, लेकिन वे अभी तक वापस नहीं लौटे हैं। देर रात मिली सूचना पर हरकत में आये राजस्व उपनिरीक्षक प्रदीप रावत ने बताया कि एसडीआरएफ ने सर्च लाइट के सहारे 200 मीटर गहरी खाई में गिरे वाहन की खोजबीन कर किसी तरह सड़क तक शवों को निकाला और पंचनामे के बाद शवों का जिला मुख्यालय गोपेश्वर में संडे को पोस्टमार्टम किया गया.

inextlive from Dehradun News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.