इन 5 खिलाड़ियों के दम पर भारत ने आॅस्ट्रेलिया में पहली बार जीती वनडे सीरीज

2019-01-18T04:55:23+05:30

भारत बनाम आॅस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न में खेला गया तीसरा वनडे भारत ने 7 विकेट से जीत लिया। इसी के साथ विराट सेना ने तीन मैचों की सीरीज भी 21 से अपने नाम की। बता दें आॅस्ट्रेलिया में भारत ने पहली बार द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीती है।

कानपुर। भारत बनाम आॅस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज भारत ने 2-1 से जीत ली। भारत ने सीरीज में पहला मैच हारने के बाद आखिरी दो मैचों में शानदार वापसी कर सीरीज पर कब्जा किया। भारत की आॅस्ट्रेलिया में इस पहली वनडे सीरीज जीत में इन पांच खिलाड़ियों का अहम योगदान रहा।

एमएस धोनी बने खेवनहार

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2019 की काफी धमाकेदार शुरुआत की है। आॅस्ट्रेलिया में भारत की पहली वनडे सीरीज जीत के वह बड़े नायक रहे। आपको जानकर हैरानी होगी कि धोनी ने इस सीरीज में विराट कोहली से ज्यादा रन बनाए हैं। उनके बल्ले से तीन अर्धशतक सहित कुल 193 रन निकले। जबकि कोहली एक शतक सहित सिर्फ 153 रन बना पाए। यही नहीं इस सीरीज में माही भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बने। धोनी ने भारत को पहले एडीलेड आैर फिर मेलबर्न में जीत दिलार्इ।
युजवेंद्र चहल ने झटके छह विकेट
मेलबर्न वनडे में आॅस्ट्रेलियार्इ कप्तान एरोन फिंच ने टाॅस जीतकर पहले बैटिंग का निर्णय लिया आैर पूरी कंगारु टीम 230 रन पर सिमट गर्इ। मेजबान टीम को सस्ते में समेटने में भारतीय स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल का अहम योगदान रहा। चहल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए छह आॅस्ट्रेलियार्इ बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। आॅस्ट्रेलिया में किसी भारतीय गेंदबाज का संयुक्त रूप से यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। चहल आॅस्ट्रेलियार्इ जमीं पर किसी एक वनडे पारी में सबसे ज्यादा छह विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज बने।
केदार जाधव ने दिया धोनी का साथ
मेलबर्न में खेले गए निर्णायक मुकाबले में केदार जाधव ने एमएस धोनी का अच्छा साथ दिया। चौथे विकेट के लिए धोनी आैर जाधव ने शतकीय साझेदारी कर भारत को जीत की दहलीज पर पहुंचाया। जाधव का इस सीरीज का पहला वनडे मैच था आैर उन्होंने नाबाद 61 रन की पारी खेली।
विराट कोहली की शतकीय पारी
भारत की इस वनडे सीरीज जीत में विराट कोहली के शतक का भी अहम योगदान रहा। एडीलेड वनडे में जब भारत को जीत के लिए 299 रन चाहिए थे। तब चेज मास्टर ने 103 रन की पारी खेली थी। विराट की इस शतकीय पारी की बदौलत ही भारत लक्ष्य के करीब तक पहुंच पाया था आैर आखिर में धोनी ने भारत को जीत की दहलीज पर पहुंचाया।

भुवनेश्वर कुमार का शानदार कमबैक

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने वनडे क्रिकेट में शानदार कमबैक किया। भुवी सीमित आेवरों के खेल में काफी समय दूर रहे थे। एेसे में कंगारुआें के खिलाफ उन्होंने लय पकड़ी आैर सीरीज में हार्इएस्ट विकेट टेकर बने। भुवी ने तीन मैचों में कुल 8 विकेट चटकाए। बता दें भुवी ने इस सीरीज में तीनों बार आॅस्ट्रेलियार्इ कप्तान एरोन फिंच को आउट किया। आॅस्ट्रेलियार्इ आेपनर बल्लेबाज एरोन फिंच इस सीरीज में भुवनेश्वर कुमार की सिर्फ सात गेंदों पर बल्ला लगा पाए। क्रिकइन्फो पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, फिंच ने तीन मैचों में भुवनेश्वर की कुल 37 गेंदों का सामना किया जिसमें 30 गेंदें तो डाॅट रहीं। वहीं बल्ले से मात्र 16 रन निकले आैर हर बार भुवी को अपना विकेट दे बैठे।

मेलबर्न वनडे : आॅस्ट्रेलिया में 6 विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज बने चहल, जानें पहला कौन था


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.