पूर्वी सिंहभूम की छह बेटियां कश्मीरदिल्ली में बंधक

2019-04-22T12:18:33+05:30

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र : पटमदा प्रखंड के चड़कपाथर गांव की छह युवतियां मानव तस्करी की शिकार हो गई। केंदाडीह की रहने वाली दो सगी बहनें अनुपमा महतो व कल्पना महतो ने उन्हें नर्सिगहोम में काम दिलाने का झांसा देकर दिल्ली और कश्मीर ले गईं। वहां उनसे घरेलू नौकर का काम कराया जा रहा है। आरोपित दोनों युवतियां गांव की लड़कियों को बहला-फुसलाकर महानगरों में ले जाकर अनर्गल कामों में लगवा रही हैं।

युवतियों को लाने की गुहार

परिजनों को जब इस बात की जानकारी मिली कि नौकरी के नाम पर बाहर में ले जाकर अनर्गल काम कराया जा रहा है तो वे रविवार को क्षेत्र के विधायक रामचंद्र सहिस से उनके मानगो स्थित आवास में मिले और युवतियों कों वापस लाने की गुहार लगाई।

हो रहा अमानवीय व्यवहार

विधायक रामचंद्र सहिस ने बताया कि जुगसलाई विधानसभा क्षेत्र के पटमदा प्रखंड के चाड़कपाथर गांव से पांच व बोड़ाम प्रखंड के पागदा गांव की एक युवती को नर्स की नौकरी देने के नाम पर बहला फुसलाकर दिल्ली व जम्मू-कश्मीर में दाई का काम करवाया जा रहा है। उसके साथ अमानवीय व्यवहार भी हो रहा है। विधायक ने कहा कि वे उपायुक्त से बातचीत कर जल्द ही युवतियों को उसके घर वापस लाएंगे।

नौकरी लगाने का दिया था प्रलोभन

परिजनों ने बताया कि शिवरात्रि के समय अनुपमा महतो व कल्पना महतो गांव आईं। घर-घर जाकर युवती के परिजनों को नौकरी दिलाने का प्रलोभन दिया और नर्सिगहोम में नौकरी दिलाने का झांसा देकर सबको अपने साथ ले गईं।

कश्मीर से युवती ने फोन कर दी जानकारी

एक युवती को एजेंट के जरिए कश्मीर भेज दिया गया था। वहां से युवती ने किसी के फोन से जुगसलाई के विधायक रामचंद्र सहिस से संपर्क कर वहां प्रताडि़त किए जाने की जानकारी दी। यह भी बताया कि उसे किस तरह पटमदा से कश्मीर ले जाया गया। इसके बाद विधायक सहिस ने सभी युवतियों के परिजनों को अपने आवास पर बुलाया और आश्वासन दिया कि सभी को सकुशल लाएंगे।

इन युवतियों को बनाया गया बंधक

दिल्ली व कश्मीर में बंधक बनी युवतियों में चाकड़पाथर गांव की प्रहलाद महतो की पुत्री बालेश्वरी महतो, मनोहर महतो की पुत्री मानकू महतो व रंभावती महतो, नरेश कड़ामोनी की पुत्री स्नेहलता कड़ामोनी, तारापदो महतो की पुत्री अनिता तथा पगदा गांव के सुभाष महतो की पुत्री मालती महतो शामिल हैं।

inextlive from Jamshedpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.