विधायक धरने पर आश्वासन के बाद उठे

2019-06-11T06:00:48+05:30

यूनीवर्सिटी पर बनाया 25 लाख रुपए की आर्थिक मदद का दबाव, आश्वासन पर धरने से उठे

रविवार रात्रि हाइवे स्थित यूनीवर्सिटी के गेट पर तैनात बाउंसर की हुई थी गोली मारकर हत्या

MEERUT सुभारती विश्वविद्यालय में बाउंसर की हत्या के बाद सोमवार प्रकरण दिनभर गरमाता रहा। घटना के विरोध में मेरठ दक्षिण विधायक डॉ। सोमेंद्र तोमर के नेतृत्व में मृतक के परिजन, ग्रामीण और सामाजिक लोगों का प्रतिनिधिमंडल धरने पर बैठ गया। यूनीवर्सिटी प्रबंधन द्वारा पीडि़त परिवार के लिए 25 लाख रुपए की आर्थिक मदद के आश्वासन के बाद ही विधायक धरने से उठे।

फ्लैश बैक

घटना रविवार रात्रि करीब सवा दस बजे की है। कार सवार युवकों ने यूनीवर्सिटी के गेट से एंट्री की। गोल चक्कर के पास गेट नंबर सात में घुसने के दौरान गार्डो ने उन्हें रोक लिया। इस पर कार सवार युवक तैश में आ गए और पिस्टल निकालकर गोलीबारी शुरू कर दी। गोली की आवाज सुनकर बाउंसर मनोज नागर व सिक्योरिटी सुपरवाइजर कृष्णवीर भी घटनास्थल की तरफ दौड़ पड़े। युवकों ने सीधी गोली चलानी शुरू कर दी। पैर में गोली लगने से मनोज नागर जमीन पर गिर गया। इसके बाद हमलावरों ने उस पर एक के बाद एक कई फायर झोंक दिए। हाथ में गोली लगने से घायल हुआ सुपरवाइजर इमरजेंसी की तरफ दौड़ा और शोर मचा दिया। अन्य सुरक्षा गार्ड व बाउंसर कुछ समझ पाते, इससे पहले ही हमलावर कार में बैठकर भाग गए। पहचान में आए हमलावर मोहित की पत्‍‌नी यूनीवर्सिटी के फाइन आ‌र्ट्स विभाग में शिक्षिका है। जबकि दूसरा आरोपी सूरज फाइन आ‌र्ट्स का छात्र है।

25 लाख की मदद का आश्वासन

युवक की हत्या के बाद सोमवार को विधायक समेत परिजनों ने यूनीवर्सिटी प्रबंधन का घेराव कर मृतक के परिवार को मुआवजा, नौकरी और अपराधियों पर कठोर कार्यवाही की मांग की। इस दौरान सैकड़ों लोग यूनीवर्सिटी परिसर में मौजूद रहे। वहीं शव को जबरन पोस्टमार्टम के लिये भेजने पर विधायक सोमेंद्र तोमर ने सीओ सरधना पंकज सिंह को फटकार लगाई। विश्वविद्यालय द्वारा पीडि़त परिवार को 25 लाख रुपए की आर्थिक मदद, एक सदस्य को नौकरी और परिवार को आजीवन निशुल्क चिकित्सा की घोषणा पर ही लोग शांत हुए। इस मौके पर भाजपा नेता मुखिया गुर्जर, भाजपा महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल, मेरठ ब्लॉक प्रमुख नीतिन कसाना, जिला पंचायत सदस्य सुमित घाट, रालोद नेता पप्पू गुर्जर आदि मौजूद थे।

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.