सपा ने जारी किया घोषणा पत्र महिलाओं को देंगे 3 हजार प्रतिमाह

2019-04-06T09:34:04+05:30

लोकसभा चुनाव में गठबंधन के सत्ता में आने पर समाजवादी पार्टी ने सभी गरीब महिलाओं को तीन हजार रुपया महीना समाजवादी पेंशन देने का वायदा किया है

- सेना में अहीर बख्तरबंद रेजीमेंट व गुजरात इंफैंट्री रेजिमेंट बनाने का वायदा

- कश्मीर नीति की समीक्षा से लेकर गरीबों को लोहिया आवास देने का वायदा

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: लोकसभा चुनाव में गठबंधन के सत्ता में आने पर समाजवादी पार्टी ने सभी गरीब महिलाओं को तीन हजार रुपया महीना समाजवादी पेंशन देने का वायदा किया है। राहुल गांधी के गरीबों को छह हजार रुपया महीना देने के एलान का इसे जवाब माना जा रहा है। शुक्रवार को सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने पार्टी का घोषणा पत्र जारी करते हुए एलान किया कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो सेना में अहीर बख्तरबंद रेजीमेंट व गुजरात इंफैंट्री रेजिमेंट बनाई जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने हर साल एक लाख बेरोजगारों को नौकरी देने की भी घोषणा की।

ढाई करोड़ से ज्यादा संपत्ति वालों को दो फीसद टैक्स
सपा मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में अखिलेश यादव ने कहा कि अगर गठबंधन सत्ता में आया तो ढाई करोड़ रुपये से ज्यादा संपत्ति रखने वाले देश के 0.1 फीसदी परिवारों पर दो प्रतिशत टैक्स लगाया जाएगा। इस टैक्स से अर्जित रकम को गरीबों के कल्याण के लिये खर्च किया जाएगा। कहा कि, देश के हर एक विद्यार्थी को उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षा सामग्री निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। स्थानीय भाषा में विश्वस्तरीय शिक्षा देने, इंटरेक्टिव पाठ्यक्रम शामिल करने, जरूरतमंदों को लैपटॉप व टैबलेट देने, हर साल एक लाख नौकरियां देने का भी वायदा किया गया है।

किसानों का सौ फीसदी कर्जमाफ
जारी घोषणा पत्र में किसानों के लिए सपा ने सौ फीसदी कर्जमाफी का एलान किया है। इसके लिए केरल में सफल साबित हुए कम्युनिटी बेस्ड लोन सर्विस मॉडल को बढ़ावा देकर इसका नेतृत्व स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को देने की योजना है। अखिलेश ने सैन्य परिवारों के लिए राज्य आधारित लोक कल्याण योजना शुरू करने की बात भी घोषणा पत्र में कही है। इसके अलावा पांच साल में सरकारी विभागों में मानव संसाधन को चरणबद्ध तरीके से दोगुना करके नौकरियों की संख्या में इजाफा, नए उद्योगों को बढ़ावा देने, एक्सप्रेस वे व सड़के बनाने, समाजवादी छात्रावास बनाने, हर गांव में खेल का मैदान और हर जिले में खेल सुविधाएं दिलाने का भी वायदा किया गया है।

60 फीसदी राष्ट्रीय संपत्ति पर कब्जा
जातिगत जनगणना के आंकड़ों को जारी करने की वकालत करते हुए अखिलेश ने कहा कि देश की 60 फीसदी राष्ट्रीय संपत्ति पर 10 प्रतिशत समृद्ध सामान्य वर्ग का कब्जा है। खुद को गरीब, शोषित व वंचित वर्ग की आवाज बताते हुए उन्होंने बाद में सामान्य वर्ग को भी साथ लेकर चलने की बात कही। उन्होंने कहा कि अमीर और गरीब के बीच की खाई और भी गहरी हुई है। घोषणा पत्र में अल्पसंख्यकों के लिए अलग से कोई वायदा या घोषणा न होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पूरी सपा पार्टी अल्पसंख्यकों के साथ है। नमो चैनल को लेकर मचे हो-हल्ले के बीच अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी भी अगली बार साइकिल चैनल लाएगी।

बनारस से बड़ी जीत होगी
आजमगढ़ से बीजेपी द्वारा भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को उनके खिलाफ प्रत्याशी बनाए जाने को लेकर पूछे सवाल पर अखिलेश ने कहा कि चुनाव चुनाव की तरह होता है। पीएम मोदी की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी जीत बनारस से भी बड़ी जीत होगी।

घोषणा पत्र के अन्य प्रमुख बिंदु

-जीडीपी का छह प्रतिशत शिक्षा पर खर्च किया जाएगा।

-पूरे देश में एक्सप्रेस वे व सड़कों का जाल बिछाया जाएगा।

-छात्रों के लिये समाजवादी छात्रावास बनाए जाएंगे।

-हर गांव में खेल का मैदान और हर जिले में खेल की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।

-महिलाओं की सुरक्षा के लिये कानून-व्यवस्था की स्थिति पर पुनर्विचार किया जाएगा

-देश में दुनिया की सबसे बड़ी पावरग्रिड बनाई जाएगी।

-पुलिस सुधार के लिये कानूनों का नवीनीकरण किया जाएगा।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.