फटकार के बाद लंबित विवेचना में रफ्तार

2018-06-23T06:00:05+05:30

25

हजार से अधिक जिले में लंबित हैं मुकदमों की विवेचनाएं

06

हजार से अधिक विवेचनाएं फटकार के बाद हुई पूरी

10

से 15 दिन के अंदर विवेचना अधिकारियों ने पकड़ी रफ्तार

-लंबित विवेचनाओं के निस्तारण को लेकर एक्शन मोड में आए एसएसपी

-लापरवाही बरतने वाले आइओ पर लटक रही कार्रवाई की तलवार

ALLAHABAD: जिले में लंबित 25 हजार से अधिक मुकदमों की विवेचनाओं में इन दिनों अचानक तेजी आई है। यह देख कर आप ये कतई न सोचें कि विवेचना अधिकारी अपने कर्तव्य को लेकर सजग व ईमानदार हो गए हैं। दरअसल इस रफ्तार की वजह एसएसपी नितिन तिवारी की फटकार है। इस फटकार का असर यह है कि 10 से 15 दिन के भीतर करीब छह हजार से अधिक विवेचनाएं आइओ पूरी कर लिए हैं। यह आंकड़े इस बात के उदाहरण हैं कि एसएसपी की घुड़की से पहले आईओ मुकदमों की विवेचनाओं में जबरदस्त लापरवाही बरत रहे थे। उनकी इस लापरवाही का खामियाजा इंसाफ की आश में बैठे लोगों को भुगतना पड़ रहा था।

रजिस्टर खोलेगा आइओ की पोल

काफी समय से जनपद में 25 हजार से अधिक विवेचनाएं पेंडिंग थीं। इस बात की भनक लगते ही एसएसपी ने विवेचना अधिकारियों की जमकर क्लास ली। इसके बाद महज दस से पन्द्रह दिनों में छह हजार से अधिक विवेचनाओं को आइओ द्वारा निस्तारण कर दिया गया। एसएसपी ने विवेचना अधिकारियों को हिदायत दी है कि वे एक रजिस्टर बनाकर विवेचनाओं से संबंधित जानकारियां जैसे विवेचना संख्या, जांच मिलने की तिथि व पूरी हो चुकी विवेचनाओं को दर्ज करें।

इंसाफ में लग रहा समय

-बढ़ते मुकदमों के बोझ और विवेचनाओं लेट लतीफी से लोगों को न्याय मिलने में लग रहा है समय

-विवेचना अधिकारी की रिपोर्ट के अभाव में कोर्ट समय से लोगों को नहीं दे पा रहा इंसाफ

-मुकदमें का फाइनल फैसला न होने से कोट व वकीलों का चक्कर काट रहे हैं हजारों लोग

-ऐसे में इंसाफ के लिए भटक रहे लोगों का समय और पैसा दोनों हो रहा है बर्बाद

ऐसे लोग मुकदमें व इंसाफ को लेकर झेल रहे हैं शारिक व मानसिक तनाव

विवेचना निस्तारण सुनवाई दिवस

-एसएसपी नितिन तिवारी ने शनिवार को विवेचना निस्तारण जनसुनवाई दिवस घोषित किया है

-इस दिन थानों पर खुद एसएसपी विवेचनाओं को देंखेंगे और वादी व प्रतिवादी की बात सुनेंगे

-इसके अलावा सिटी और ग्रामीण थानों पर इसी प्रकार अन्य अधिकारियों को नियुक्त किया है।

शनिवार को कहां-कौन सुनेगा फरियाद

थाना अधिकारी

कर्नलगंज एसएसपी

धूमनगंज एसपी सिटी

कीडगंज सीओ तृतीय

सिविल लाइंस सीओ द्वितीय

जार्ज टाउन सीओ चतुर्थ

करैली सीओ प्रथम

झूंसी सीओ पंचम

गंगापार

थाना अधिकारी

सोरांव एसपी गंगापार हंडिया सीओ हंडिया

थरवई सीओ फूलपुर

नवाबगंज सीओ सोरांव

यमुनापार

नैनी एएसपी यमुनापार

मेजा सीओ मेजा

करछना सीओ करछना

उतरांव सीओ बारा

विवेचनाओं में लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। सभी विवेचना अधिकारियों को रजिस्टर मेनटेन करने के साथ ही समय से जांच को पुरी करने के निर्देश दिए गए हैं। लापरवाही मिलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

-नितिन तिवारी, एसएसपी

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.