इस कैमरे द्वारा देख सकेंगे दीवार के आर पार फिल्मों का झूठ आज हो गया सच!

2018-06-18T08:40:04+05:30

हॉलीवुड की तमाम फिल्मों में आपने यह नजारा देखा होगा कि फिल्‍म का हीरो कैमरे से लैस एक ऐसा अनोखा चश्मा लगाता है। जिसके द्वारा वो दीवार के पार छिपे अपने दुश्मन या विलेन को भी देख सकता है। साइंस फिक्‍शन फिल्मों का यह मजेदार झूठ अब रियल लाइफ में सच हो गया है। आप खुद देखिए।

एक्‍सरे विजन की तरह दीवार के पार भी देख सकता है यह कैमरा
कानपुर। अमेरिका की मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी यानी एमआईटी ने एक्स रे विजन वाला एक ऐसा कैमरा इजाद किया है जो किसी भी दीवार के पार छिपे हुए लोगों या चीजों को देख सकता है। डेलीमेल की रिपोर्ट बताती है क‍ि यह हाइटेक एक्‍सरे विजन कैमरा घने अंधेरे में भी पूरा काम कर सकता है। इस कैमरे को बनाने वाली रिसर्च टीम के मुताबिक इस कैमरे के साथ जुड़ा हुआ एक बॉडी ट्रैकर मॉनिटर दीवार के पार से लौटकर आने वाली रेडियो तरंगों को पहचान कर यह जान जाता है कि उस पार कौन, कहां, किस स्थिति में मौजूद है। फिलहाल अभी इस बॉडी कैमरे को सेना के लिए एक बेहतरीन विकल्प माना जा रहा है। जिससे सैनिक किसी बिल्डिंग या घने जंगल में छिपे हुए अपने दुश्मनों को बिना देखे भी आसानी से ढूंढ लेंगे।

कैसे काम करता है यह AI कैमरा?
दरअसल यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) वाला एक्‍स-रे विजन कैमरा रेडियो सिग्नल के आधार पर काम करता है। यानि कि यह कैमरा ना दिखने वाली लेकिन आस-पास मौजूद किसी भी चीज के नजदीक से आने वाली रेडियो तरंगों को रीड करके समझ जाता है कि वहां कौन मौजूद है। वह इंसान है या जानवर या कुछ और। कैमरे से जुड़ी वीडियो स्क्रीन पर इन सिग्नल्स के आधार पर उस व्यक्ति की आकृति और उसकी पोजीशन साफ नजर आ जाती है। अगर वह व्यक्ति चल रहा है, या बैठा है, या कूद रहा है। यह कैमरा उसकी हर एक मूवमेंट को रियल टाइम में मॉनिटर करके दिखा देता है।

 

Wireless smart-health system uses AI to sense movement through walls: https://t.co/ER7hX9STxb pic.twitter.com/2vCVkxGTFE

— CSAIL at MIT (@MIT_CSAIL) June 12, 2018

 


मिलिट्री के लिए साबित होगा वरदान
फिलहाल तो वैज्ञानिक इस अनोखे कैमरे को सेना के लिए सबसे महत्वपूर्ण मान रहे हैं और उनके लिए यह वरदान साबित हो सकता है। फिर भी वैज्ञानिकों का कहना है कि भविष्य में यह कैमरा हेल्थ केयर एप्लीकेशन के तौर पर घरों में भी इस्तेमाल हो सकेगा। पार्किंसन रोग से जूझते हुए मरीजों या अन्य किसी बीमार व्यक्ति को या गिरे पड़े व्यक्ति को भी दीवार के पार से या कमरे के बाहर से भी देखा जा सकेगा। वाकई यह कैमरा आने वाले समय में आम आदमियों से लेकर सैनिकों की जिंदगी में बड़ा और बेहतरीन बदलाव कर सकता है।

यह भी पढ़ें:

चीन को पीछे छोड़ अमरीका ने बनाया दुनिया का फास्टेस्ट सुपर कंप्‍यूटर, दो टेनिस कोर्ट के बराबर है आकार

ऑनलाइन प्राइवेसी बनाए रखने के लिए यह हैं लेटेस्ट तरीके, एक बार जरूर आजमाएं

इस कंपनी ने पब्लिक के लिए उतारी उड़ने वाली कार! सिर्फ 1 घंटे की ट्रेनिंग से उड़ा सकेंगे लोग


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.