आगरा में कार में लगी आग सड़क पर ही खाक बर्निंग कार से बचने के लिए बरते ये सावधानियां

2019-06-12T06:00:16+05:30

मंगलवार को फतेहाबाद रोड से आगरा की ओर आ रही कार में अचानक शॉट सर्किट से आग लग गई

-फतेहाबाद की ओर दौड़ रही कार में शॉर्ट सर्किट से लगी आग
-इंडिका कार सवार युवक ने घटनास्थल से भागकर बचाई जान

agra@inext.co.in
AGRA: अगर आपके पास फोर व्हीलर है, तो ये खबर आपके लिए खास है। आपकी कार कभी भी बर्निग कार में बदल सकती है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप कुछ सावधानी बरतें। मंगलवार को फतेहाबाद रोड से आगरा की ओर आ रही कार में अचानक शॉट सर्किट से आग लग गई। जब तक मदद के लिए पीआरवी वैन और फायर ब्रिगेड पहुंची, तब तक कार जलकर खाक हो चुकी थी।

अचानक से उठने लगा धुआं
गांव नागर निवासी रामसेवक पुत्र रामभरोसी अपनी कार से कहीं जा रहे थे। इसी दौरान उन्हें कार से अचानक धुआं उठते दिखा। रामसेवक ने कार साइड में लगा दी, लेकिन जब तक वह कुछ समझ पाते कार से लपटें उठने लगीं थीं। धीरे-धीरे आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। राहगीरों की भीड़ जमा हो गई। उन्होंने मिट्टी और पानी डालकर आग बुझाने का प्रयास किया।

कभी भी लग सकती है आग
मैकेनिकल इंजीनियर नितिन रावत का कहना है कि आग लगने की घटना किसी भी स्थिति में हो सकती है। इस तरह की घटनाएं कभी तो कार के चलते वक्त और कभी खड़े होने के दौरान भी हो सकती हैं। बंद कार में सिर्फ बैट्री ही आग लगने का कारण बन सकती है। इसके साथ ही समय-समय पर अपने वाहन की ओवरहॉलिंग व फिटनेस चेकिंग कराते रहना चाहिए। कार को आग से बचाने के लिए अलर्ट रहना जरूरी है।

इन बातों का रखें ध्यान

23

रजिस्टर्ड शॉप से ही लगवाएं गैस किट

50

से ज्यादा अनऑर्थराइज डीलर लगा रहे गैस किट

04

घटनाएं एक सप्ताह में हो चुकी हैं

समय पर कराते रहें अपनी कार की फिटनेस

-ऑर्थराइज्ड डीलर्स से ही वाहनों में सीएनजी-एलपीजी किट लगाएं

-गर्मियां शुरू होने से पहले किट का चेकअप करवा लें

-कार में मौजूद आग बुझाने के उपकरण को भी चेक कराते रहें

-समय पर कार की फिटनेस कराते रहें। इंजन का चेकअप कराते रहें

-गर्मियों में तो खास ध्यान देने की आवश्यक है

ओरिजनल किट को ही दें प्रायर्टी
पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ने पर बड़ी संख्या में लोगों ने अपनी कारों में सीएनजी-एलपीजी किट लगवाई। लेकिन, सिटी में फर्जी किट लगवाने वालों के चलते कार रिस्की होती जा रही है। सिटी में कुल 23 रजिस्टर्ड किट डीलर हैं, लेकिन पचास से अधिक सेंटरों पर किट लगाई जाती है। ऐसे लोग किट लागने के मानकों को फॉलो नहीं करते हैं। इससे अक्सर कार में आग लगने का खतरा बना रहता है। कई कारों में आग के पीछे सीएनजी-एलपीजी किट को बड़ी वजह बताया जाता है। अनऑर्थराइज डीलर किट लगाने में मानकों की अनदेखी करते हैं। लोकल पुर्जे लगाकर किट तैयार करते हैं। जिससे बर्निग कार की घटना होने का खतरा बना रहता है। किट डीलर हाजी सुहेल का कहना है कि सिटी में कार में आग लगने का मुख्य कारण क्वालिटी से समझौता होता है, इसका विशेष ध्यान रखना चाहिए।

हाल ही में हुई आग लगने की घटनाएं
19 अप्रैल में न्यू आगरा थाना क्षेत्र में चलती लग्जरी कार में आग लग गई। कार में बैठे परिवार ने किसी तरह बाहर निकलकर जान बचाई।

2 मई को फतेहपुर सीकरी रोड पर अचानक कार से धुआं निकलने लाग। कार सवारों ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई

9 मई को सीएनजी लोडिंग ऑटो में अचानक शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। अचानक लगी आग से चालक ने भागकर जान बचाई

11 जून को फतेहाबाद के वाह मार्ग पर खंडेर के पास अचानक कार में आग लग गई। कार सवार सकुशल बहार आ गए।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.