जमुआ पर भी माले की नजर

2014-12-09T07:07:54+05:30

RANCHI : जमुआ विधानसभा सीट पर सीपीआईएमएल का अच्छा- खासा जनाधार है। पिछले विधानसभा चुनाव में सीपीआईएमएल प्रत्याशी यहां दूसरे नंबर पर थे। उस चुनाव में जेवीएम उम्मीदवार चंद्रिका महथा से माले उम्मीदवार सत्यानारायण दास 18627 वोटों से हार गए थे। इस विधानसभा चुनाव में सत्यानारायण दास जहां जेवीएम उम्मीदवार हैं वहीं चंद्रिका महथा जेवीएम छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे, लेकिन टिकट नहीं मिलने से अब वह इस सीट से झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं। जबकि बीजेपी ने केदार हाजरा को मैदान में उतारा है। इस सीट से अशोक पासवान माले के प्रत्याशी हैं.

निरसा और सिंदरी में मजबूती के साथ मासस

धनबाद जिले की निरसा और सिंदरी विधानसभा सीट पर भी लेफ्ट मजबूती के साथ चुनाव मैदान में है। निरसा सीट से मा‌र्क्सवादी समन्वय समिति के अरूप चटर्जी चुनाव लड़ रहे हैं। वह इस सीट से विधायक हैं। पिछले चुनाव में उन्होंने बीजेपी के अशोक कुमार मंडल को 35,577 वोटों के बड़े अंतर से हराया था। इस चुनाव में बीजेपी ने गणेश मिश्रा को चुनाव मैदान में उतारा है। ऐसे में इस बार भी अरूप चटर्जी काफी मजबूत नजर आ रहे हैं। इसी जिले की सिंदरी सीट पर भी वामपंथ का असर है। पिछले चुनाव में इस सीट से चुनाव लड़े मासम उम्मीदवार आनंद महतो दूसरे स्थान पर थे। जबकि जेवीएम के टिकट पर चुनाव लड़े फूलचंद मंडल विधायक का चुनाव जीते थे। इस बार फूलचंद मंडल बीजेपी प्रत्याशी हैं, जबकि आनंद महतो दोबारा मासस के उम्मीदवार हैं। इसके साथ ही बड़कागांव, गांडेय और चंदनकियारी भी ऐसी सीटें हैं, जहां पर वामपंथी पार्टियां मजबूती के साथ मैदान में डटी हैं.

भाजपा- आजसू के साझा प्रत्याशी सुदेश महतो के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने की चुनावी सभा

विकास के जो काम राज्य भर में कहीं नहीं हुए, वो सिल्ली में हुए है। यहां का विकास मॉडल झारखंड के लिए आदर्श है। सुदेश महतो ने क्षेत्र के लिए जैसा काम किया है, वैसा अगर बाकी जनप्रतिनिधि भी करें तो झारखंड को संवरने से कोई नहीं रोक सकता। ये बातें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सिल्ली में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहीं। वह शुक्रवार को सिल्ली क्षेत्र के सोनाहातू में बीजेपी- आजसू के साझा प्रत्याशी सुदेश महतो के पक्ष में जनसभा कर रहे थे.

इस चुनावी सभा में अमित शाह ने सुदेश महतो के 15 साल के कार्यकाल का जो रिपोर्ट कॉर्ड पेश किया है, वह अपने आप में यह बताने के लिए काफी है कि इस क्षेत्र का कितना विकास हुआ है। अमित शाह ने कहा कि देश में प्रधानमंत्री मोदी के हाथों को अगर मजबूत करना है, तो राज्य में बीजेपी- आजसू गठबंधन की सरकार बनानी जरूरी है। इसके लिए सुदेश महतो को सिल्ली से जीतना भी जरूरी है। इसलिए सिल्ली की जनता सुदेश महतो को भारी मतों से जीताकर विधानसभा भेजे। इस अवसर पर सुदेश महतो ने कहा कि सिल्ली को सीधे दिल्ली से जोड़ना है, इसलिए गठबंधन किया गया है.

inextlive from Ranchi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.