बरेली पकड़े न जाएं इसलिए पुलिस थाने के बगल में ही चोर गैंग ने बनाया ठिकाना

2019-05-05T11:41:28+05:30

पुलिस थाने के बगल में वाहन चोरों ने अपनै ठिकाना बना रखा है। उन्हें लगा पुलिस उन्सें हर जगह ढूंढ़ती फिरेगी पर थाने के पास उन्हें ठिकाना होने का अंदाजा भी नहीं होगा

-बाइक मिस्त्री चला रहा था बाइक चोरी का गैंग, सरगना समेत तीन चोर पकड़े
-नौ वाहन समेत, पाटर््स बरामद, दूसरे वाहनों में पाटर््स लगा बेचते थे

bareilly@inext.co.in
BAREILLY :
शहर भर में ताबड़तोड़ बाइक चोरी को अंजाम देने वाले गैंग के तीन बदमाशों को पुलिस ने सैटरडे को दबोचा। पकड़े गए वाहन चोर गैंग का सरगना बाइक मिस्त्री निकला। पुलिस से बचने के लिए उसने इज्जतनगर थाने के पास ही अपना ठिकाना बनाया। जहां दुकान के अंदर ही चोरी के वाहन के पाटर््स बदल कर बचा सामान कबाड़ी को बेच देता था। पुलिस ने गैंग की निशानदेही पर चोरी के नौ वाहन समेत आठ चेचिस व बड़े पैमाने पर नंबर प्लेट के साथ पाटर््स बरामद किए हैं ।
कई थाना क्षेत्रों से चोरी की बाइक
प्रेमनगर समेत शहर में पिछले कुछ महीनों से बड़े पैमाने पर वाहन चुराए जा रहे थे। अधिकारियों ने बढ़ती वाहन चोरी की वारदातों को देखते हुए खुलासे के लिए कहा। वहीं डीडीपुरम में बड़े पैमाने पर वाहन चोरी करते वाहन चोर सीसीटीवी में कैद देख पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी। इज्जतनगर थाना पुलिस ने दो दिन पहले कशिश ऑटो रिपेयरिंग सेंटर पर दबिश देकर बाइक मिस्त्री इमरान निवासी ईट पजाया चौराहा को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ की तो पता चला कि दुकान में काम करने वाले फैसल उर्फ भूरा निवासी बानखाना बगिया प्रेमनगर व महताब निवासी चक चुंगी थाना बारादरी उसके गुर्गे हैं। तीनों मिलकर वाहन चोरी करते हैं।
30 मिनट में खोलते थे वाहन
री के वाहन दुकान में घुसते ही तीनो मिलकर चंद मिनट में पूरा वाहन खोलकर पाटर््स अलग कर लेते थे। सिर्फ चेचिस बचती थी तो उसे दुकान की मचान पर फेंक देते थे। इसके बाद दो-तीन महीने में सब चेचिस को रात में कबाड़ी के यहां ले जाकर बेच देते थे। बाइक से खोले गए पाटर््स को दूसरे वाहनों में लगाकर अच्छा मुनाफा कमाते थे।
50 से अधिक बाइक चोरी का खुलासा
एसपी सिटी अभिनंदन सिंह ने सैटरडे दोपहर प्रेसवार्ता कर खुलासा किया। पकड़े गए वाहन चोरों ने बताया कि वह एक साल से काम कर रहे थे। उन्होंने 50 के करीब बाइक चोरी की घटनाओं को कबूल किया। हालांकि पुलिस का कहना है कि दुकान कई सालों से चल रही थी। पकड़े गए वाहन चोरों की निशानदेही पर सात बाइक, 2 स्कूटी, नौ चेचिस, 24 वाहनों की टंकी, 18 नंबर प्लेट, बड़े पैमाने पर अन्य पार्टस बरामद किए गए। इस दौरान इंस्पेक्टर प्रेमनगर बलबीर सिंह ने बताया उनके थाने की 6 वाहन चोरी, दो कोतवाली व एक बारादरी की घटना खुली।
कई कबाड़ी के नाम आए सामने
इस दौरान बदमाशों ने कई कबाडि़यों के नाम बताए हैं। जिसमें ईट पजाया चौराहे, प्रेमनगर के साथ ही सिटी स्टेशन के पास समेत कई कबाडि़यों को वह चोरी के वाहनों के चेचिस आदि बेचते थे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.