बसंत पंचमी पर मां सरस्वती के इन 5 मंत्रों के जाप से बनेंगे बिगड़े काम

2019-02-08T08:15:19+05:30

ज्ञान प्राप्त करने के लिए मां सरस्वती की आराधना के साथसाथ आप नीचे दिए सरस्वती मंत्रों का जाप करते हैं तो आपके काम बिना बाधा के पूरे होंगे बिगड़े का काम भी बनेंगे।

ज्ञान की देवी सरस्वती के पूजन का दिन बसंत पंचमी इस साल रविवार 10 फरवरी को पड़ रही है। बसंत पंचमी को वागीश्वरी जयन्ती, सरस्वती पूजा, श्रीपंचमी आदि नामों से भी जाना जाता है।

ज्ञान प्राप्त करने के लिए मां सरस्वती की आराधना के साथ-साथ आप नीचे दिए सरस्वती मंत्रों का जाप करते हैं तो आपके काम बिना बाधा के पूरे होंगे, बिगड़े का काम भी बनेंगे।

महासरस्वती मंत्र – 1

देवी सरस्वती का मूल मंत्र निम्न है।

ॐ ऐं सरस्वत्यै ऐं नमः

संपूर्ण सरस्वती मंत्र:

ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महासरस्वती देव्यै नमः

महासरस्वती मंत्र – 2

बाधाओं के निवारण के लिए माँ सरस्वती के इस मंत्र का जाप करें।

ऐं ह्रीं श्रीं अंतरिक्ष सरस्वती परम रक्षिणी

मम सर्व विघ्न बाधा निवारय निवारय स्वाहा

महासरस्वती मंत्र – 3

यदि बच्चें परीक्षा में डरते हैं तो इस मंत्र के जाप से उनको काफी लाभ हो सकता है।

ॐ ऐं ह्रीं श्रीं वीणा पुस्तक धारिणीम् मम् भय निवारय निवारय अभयम् देहि देहि स्वाहा

महासरस्वती मंत्र – 4

याद करने की क्षमता को बढ़ाने के लिए इस मंत्र का जाप करें।

ऐं नमः भगवति वद वद वाग्देवि स्वाहा

महासरस्वती मंत्र – 5

उच्च शिक्षा और बुद्धिमत्ता के लिए माँ सरस्वती के इन मंत्रों का जाप करें।

शारदा शारदाभौम्वदना वदनाम्बुजे

सर्वदा सर्वदास्माकमं सन्निधिमं सन्निधिमं क्रिया तू

श्रीं ह्रीं सरस्वत्यै स्वाहा

ॐ ह्रीं ऐं ह्रीं सरस्वत्यै नमः        

महासरस्वती मंत्र -6

कला और साहित्य के क्षेत्र में सफलता पाने के लिए इस मंत्र का जाप करें।

शुक्लां ब्रह्मविचार सार परमां आद्यां जगद्व्यापिनीं

वीणा पुस्तक धारिणीं अभयदां जाड्यान्धकारापाहां

हस्ते स्फाटिक मालीकां विदधतीं पद्मासने संस्थितां

वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धि प्रदां शारदां

बसंत पंचमी 2019: इस बार बन रहा है पूर्ण शुभ फल देने वाला योग, पूजा का शुभ मुहूर्त


ज्ञान की देवी सरस्वती के पूजन का दिन बसंत पंचमी इस साल रविवार 10 फरवरी को पड़ रही है। बसंत पंचमी को वागीश्वरी जयन्ती, सरस्वती पूजा, श्रीपंचमी आदि नामों से भी जाना जाता है।

ज्ञान प्राप्त करने के लिए मां सरस्वती की आराधना के साथ-साथ आप नीचे दिए सरस्वती मंत्रों का जाप करते हैं तो आपके काम बिना बाधा के पूरे होंगे, बिगड़े का काम भी बनेंगे।

महासरस्वती मंत्र – 1

देवी सरस्वती का मूल मंत्र निम्न है।

ॐ ऐं सरस्वत्यै ऐं नमः

संपूर्ण सरस्वती मंत्र:

ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महासरस्वती देव्यै नमः

महासरस्वती मंत्र – 2

बाधाओं के निवारण के लिए माँ सरस्वती के इस मंत्र का जाप करें।

ऐं ह्रीं श्रीं अंतरिक्ष सरस्वती परम रक्षिणी

मम सर्व विघ्न बाधा निवारय निवारय स्वाहा

महासरस्वती मंत्र – 3

यदि बच्चें परीक्षा में डरते हैं तो इस मंत्र के जाप से उनको काफी लाभ हो सकता है।

ॐ ऐं ह्रीं श्रीं वीणा पुस्तक धारिणीम् मम् भय निवारय निवारय अभयम् देहि देहि स्वाहा

महासरस्वती मंत्र – 4

याद करने की क्षमता को बढ़ाने के लिए इस मंत्र का जाप करें।

ऐं नमः भगवति वद वद वाग्देवि स्वाहा

महासरस्वती मंत्र – 5

उच्च शिक्षा और बुद्धिमत्ता के लिए माँ सरस्वती के इन मंत्रों का जाप करें।

शारदा शारदाभौम्वदना वदनाम्बुजे

सर्वदा सर्वदास्माकमं सन्निधिमं सन्निधिमं क्रिया तू

श्रीं ह्रीं सरस्वत्यै स्वाहा

ॐ ह्रीं ऐं ह्रीं सरस्वत्यै नमः        

महासरस्वती मंत्र -6

कला और साहित्य के क्षेत्र में सफलता पाने के लिए इस मंत्र का जाप करें।

शुक्लां ब्रह्मविचार सार परमां आद्यां जगद्व्यापिनीं

वीणा पुस्तक धारिणीं अभयदां जाड्यान्धकारापाहां

हस्ते स्फाटिक मालीकां विदधतीं पद्मासने संस्थितां

वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धि प्रदां शारदां


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.