अब बेसिक के बच्चे डुगडुगी पीट वोटर्स को करेंगे अवेयर

2019-03-27T06:00:22+05:30

- मतदाता जागरूकता अभियान के तहत परिषदीय स्कूल के बच्चों को दी गई जिम्मेदारी

- पंचायत क्षेत्र में रोजाना 25 घरों में जाकर मतदाताओं को करना होगा जागरूक

बरेली : अब बेसिक स्कूल के बच्चे मतदाताओं को वोटिंग के लिए जागरूक करेंगे। बच्चों को अपने पंचायत क्षेत्र में डुगडुगी बजाकर मतदान के लिए जागरूक करना होगा। स्कूल टाइमिंग के दौरान ही बच्चों को 25 घरों में जाकर मतदाताओं को जागरूक करना होगा। इसके लिए स्कूल की तरफ से बच्चों को एक लैटर दिया जाएगा, जिसमें पेरेंट्स परमीशन के लिए बच्चों पेरेंट्स से साइन कराना होगा। बीएसए तनुजा त्रिपाठी ने मतदाता जागरूकता अभियान का शेड्यूल जारी करने सभी खंड शिक्षाधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

टोली पर अभियान की जिम्मेदारी

मतदाता जागरूकता अभियान चलाने के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में बुलावा टोली का गठन किया जाएगा। इसमें परिषदीय स्कूलों के पांचवीं से आठवीं तक के पांच छात्र व पांच छात्रा शामिल होंगी। इनका नेतृत्व इंटर कॉलेज के एनएसएस या एनसीसी कैडेट करेंगे। बुलावा टोली के प्रभारी विद्यालय के वरिष्ठ प्रधानाध्यापक रहेंगे। यह बुलावा टोली अपने क्षेत्र के 25 मतदाताओं के घरों पर पहुंचकर मतदान की शपथ पत्र को भरवाएंगे। एनपीआरसी प्रत्येक दिन की प्रगति रिपोर्ट बीएसए कार्यालय को भेजेंगे।

यह रहेंगे स्लोगन

मतदान से पहले डुगडुगी आज बजाई है, 23 अप्रैल को भी बजाएंगे, अपने गांव में 100 प्रतिशत मतदान कराएंगे जैसे नारे तथा मतदान दिवस पर जो अबकी बार छूट गया पांच साल पछताएगा जैसे के साथ जागरूकता रैली निकाली जाएगी।

बनाना होगा संपर्क रजिस्टर

प्रतिदिन चलाए गए जागरूकता अभियान के दौरान ग्रामीण के परिवार के सदस्यों का विवरण, मोबाइल नंबर के साथ रजिस्टर में दर्ज करना होगा। शिक्षकों को अभियान की सेल्फी लेकर सुरक्षित रखनी होंगी। सभी बैठकों में अभियान का रिकार्ड लेकर एबीआरसी को पहुंचना होगा।

अभियान का यह रहेगा शेडयूल

30 मार्च -परीक्षा परिणाम वितरण के समय अभिभावकों से मतदान करने की अपील करेंगे।

1 अप्रैल - आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों व सहायिकाओं के सामंजस्य से प्रवेश उत्सव के साथ मतदाता जागरूकता मेला आयोजित करना, विद्यालय में रंगोली व गुब्बारे लगाकर आकर्षक साज-सज्जा भी करनी होगी।

2 अप्रैल - न्याय पंचायत स्तर पर अभियान की समीक्षा होगी।

3 अप्रैल - ब्लॉक स्तर पर वरिष्ठ प्रधानाध्यापक की बैठक व शपथ पत्र खंड शिक्षाधिकारी प्राप्त करेंगे।

4-10 और 15-17 अप्रैल - हर दिन ग्राम, वार्ड माजरों में बुलावा टोली अपना दायित्व निभाएगी।

12 अप्रैल - ब्लॉक स्तर पर प्रत्येक पंचायत के वरिष्ठ प्रधानाध्यापक के साथ खंड शिक्षाधिकारी अभियान की समीक्षा बैठक करेंगे।

19 अप्रैल - ग्राम पंचायत में रैली निकालना, मतदान दिवस के दिन चलाने वाले अभियान व असली मतदाताओं पर फोकस करना होगा।

22 अप्रैल - दोपहर एक बजे एसएमसी के साथ मिलकर बुलावा टोली सदस्य मतदान की जानकारी के लिए ग्राम में भम्रण करेंगे।

23 अप्रैल - सुबह आठ बजे से डुगडुगी बजाने का कार्य रूक-रूक कर शाम चार बजे तक करना होगा। मतदाताओं को घर से बूथ तक ले जाने के लिए नारे लगाकर जागरूकता अभियान चलाना होगा।

26 अप्रैल - बुलावा टोली के सदस्यों को सम्मानित करना होगा।

29 अप्रैल - ब्लॉक क्षेत्र में अधिक वोट प्रतिशत वाले बूथ पर जिम्मेदारी निभाने वाले बुलावा टोलियां सदस्य, प्रधानाध्यापक को सम्मानित करना होगा।

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.