बालाजी का रथ खींचने को श्रद्धालुओं में मची होड़

2019-06-20T10:02:02+05:30

आंध्रभक्त श्री राममंदिरम् बिष्टुपुर में चल रहे 50वें ब्रह्मोत्सव में आठवें दिन बुधवार को सैकड़ों श्रद्धालुओं ने रंगबिरंगे फूलों एवं रोशनी से सजे रथ को खींचा

jamshedpur@inext.co.in
JAMSHEDPUR:  सुबह साढ़े सात बजे भगवान बालाजी का वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ पूजा-अर्चना हुई। रथोत्सव का शुभारंभ जुस्को यूनियन के अध्यक्ष रघुनाथ पांडेय ने दीप प्रज्जवलित एवं नारियल फोड़कर किया। उन्हें अध्यक्ष सीएच शंकर राव द्वारा शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। साथ ही ब्रह्मोत्सव आयोजन समिति के चेयरमैन वाई ईश्वर राव और चीफ पैट्रोन के पांडूरंगा राव को शॉल अेाढ़ाकर सम्मानित किया गया। उसके बाद बालाजी के रथ को श्रद्धालुओं ने खींचना शुरू किया।

7.30 बजे से शुरुआत
भगवान बालाजी का रथोत्सव 7:30 बजे सुबह आरंभ होकर गोविंदा-गोविंदा तथा गोपाला-गोपाला का जयकार करते हुए रथ को खींचा। मंदिर प्रांगण से निकलकर यह रथ बिष्टुपुर मेन रोड होते हुए पोस्ट ऑफिस पहुंचा। पुन: संध्या 6:00 बजे वापस बिष्टुपुर पोस्ट ऑफिस से भाजपा जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार ने नारियल फोड़कर रस्सी खींच कर रथ की वापसी रवानगी की। साथ ही खादी उद्योग के कुलवंत सिंह, अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष गुरुदेव सिंह राजा, भाजपा जिला युवा अध्यक्ष अमरजीत सिंह राजा, गोलमुरी भाजपा मंडल अध्यक्ष प्रवीर चटर्जी (राणा) ने रस्सी खींचकर रथ की वापसी रवानगी की।

भजन कार्यक्रम आयोजित
आंध्रप्रदेश से आए नादेश्वरम (शहनाई वादक ) एवं बच्चों एवं महिलाओं द्वारा नृत्य और डांडिया एवं तिरुपति से आए श्री निवास राव के निर्मला जी, एम। ईश्वर अम्मा, एम.एस भगवान, पी। चैतन्य कृष्णा के द्वारा गाए गए भजन कार्यक्रम आज का मुख्य आकर्षण रहा। इस वापसी रथोत्सव में जमषेदपुर श्री वारि सेवा समिति की महिला एवं पुरुष सदस्यों ने रथ खींचने में अपना योगदान दिया। रात को 8 बजे भगवान बालाजी का पंचामृत, ड्राई फु्रटस, गंगाजल, दूध, दही, घी, मधु एवं फलों के के रसों से अभिषेकम किया गया। तत्पश्चात भक्तों केबीच प्रसाद का वितरण किया गया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.