BSNL के 54000 कर्मचारियों के लिए खुशखबरी नहीं जाएगी नाैकरी

2019-04-04T01:53:00+05:30

भारत संचार निगम लिमिटेड बीएसएनएल ने कहा है कि 54000 कर्मचारियों की छंटनी नहीं होगी। रिटायरमेंट की उम्र कम करने जैसा कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है।

नई दिल्ली (आईएएनएस)।  भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के उन 54,000 कर्मचारियों के लिए एक खुशखबरी है जो छंटनी व रिटारमेंट की उम्र कम होने की खबरों से परेशान हैं। बीएसएनएल का कहना है कि कंपनी किसी भी तरह की छंटनी नहीं कर रही है। अभी कंपनी की ओर से रिटायरमेंट की उम्र कम करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया है। हां बस स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) लागू करने का प्लान है। बीएसएनएल ने इस संबंध आ रही मीडिया रिपोर्ट से इंकार किया है।

कर्मचारियों की छंटनी बिल्कुल भी नहीं की जा रही

बीएसएनएल के सीएमडी अनुपम श्रीवास्तव ने भी ट्वीट किया है कि रिटायरमेंट की उम्र कम या कर्मचारियों की छंटनी बिल्कुल भी नहीं की जा रही है। बीएसएनएल के सीएमडी ने यह बात तब कही जब मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि पीएसयू 54,000 कर्मचारियों को निकालने की तैयारी कर रहा है। इसके अलावा रिटायरमेंट की उम्र 60 से घटाकर 58 वर्ष करने की योजना है। दूरसंचार विभाग का कहना है विभाग भारत संचार निगम लिमिटेड के वीआरएस प्लान हेतु कैबिनेट नोट का ड्राॅफ्ट तैयार करने के लिए चुनाव आयोग से मंजूरी मांगी। इसके बाद भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के पास चर्चा के लिए भेजा गया है।
नौकरियां : सिंडिकेट बैंक में एमबीए और एलएलबी वालों को मौका, आवेदन की उम्र सीमा 45 वर्ष

बीएसएनएल के कर्मचारियों की संख्या 1.76 लाख

बीएसएनएल को इधर टेलिकाॅम कंपनियों में काॅॅम्पटीशन की वजह से काफी पेरशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि अगले कुछ महीनों में 4 जी एलटीई सेवाएं शुरू कर सकती है। इसके रेवेन्यू और सब्रकाइबर्स बेस की मदद से 50 साल और उससे अधिक के कर्मचारियों लिए 6,353 करोड़ रुपये के वीआरएस पैकेज को भरेगा। बीएसएनएल के कर्मचारियों की संख्या 1.76 लाख है। इसमें जो ज्यादातर DoT के कर्मचारी है जो बीएसएनएल के निर्माण के समय से हैं। इनका वेज रेवेन्यू का 55-60 प्रतिशत है।

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.