आज से शुरू हो रहे बजट सत्र से ठीक पहले सीएम योगी ने की ये खास अपील

2019-02-05T10:12:01+05:30

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने मंगलवार से शुरू होने वाले बजट सत्र को संचालित करने के लिए सभी दलीय नेताओं से सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया।

बजट सत्र का कार्यक्रम
- 5 फरवरी को 11 बजे राज्यपाल राम नाईक दोनों सदनों को संबोधित करेंगे
- 6, 7, 8 एवं 11 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा होगी
- 7 फरवरी को 11 बजे वर्ष 2019-20 का बजट पेश किया जायेगा
- 12, 13, 14 एवं 15 फरवरी को बजट पर चर्चा करायी जायेगी
- 18 से 22 फरवरी तक विभागों की अनुदानों मांगों पर विचार होगा
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: इस अवसर पर आयोजित सर्वदलीय बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विधानसभा की कार्यवाही शांतिपूर्ण ढंग से चले तो सदन के सम्मुख अपनी बात रखने और सरकार का ध्यान आकृष्ट करने में मदद मिलती है। सरकार को भी जमीन से जुड़ी हुई सच्चाई की जानकारी लेने में मिलती है। उन्होंने सभी दलीय नेताओं से सहयोग की अपील की।

मर्यादा के साथ रखें पक्ष

विधानसभा अध्यक्ष ने सभी दल के नेताओं से अनुरोध किया की वे अपना-अपना पक्ष सदन में शालीनता व संसदीय मर्यादा के साथ रखे। प्रेमपूर्ण वातावरण में सदन में बहस हो। सदन में चर्चा के दौरान सदस्यों को व्यक्तिगत आक्षेप से बचने की अपील की। कहा कि सदन की कार्यवाही में व्यवधान के कारण सबसे बड़ी कठिनाई अध्यक्ष को होती है। बैठक में नेता विरोधी दल के स्थान पर इकबाल महमूद, बसपा लाल जी वर्मा और कांग्रेस दल के नेता अजय कुमार ने सदन की कार्यवाही को व्यवस्थित ढंग से चलाने में सहयोग देने का आश्वासन दिया। लाल जी वर्मा ने कहा कि इस सरकार में सारे सत्र व्यवस्थित ढंग से चले। बहुत दिन बाद ऐसी आदर्श स्थिति आई है। सुझाव दिया कि लोक सभा की भांति विधेयकों पर एक समिति विचार करें। अजय कुमार उर्फ  लल्लू ने कहा कि सदन में जिन विषयों को उठाया जाए, उस पर सकारात्मक कार्यवाही की जाए। वहीं इकबाल महमूद ने सदन में जनता की उठायी जाने वाली समस्याओं पर संवेदनशील होने की बात कही।
मजबूत तथ्यों के साथ दें जवाब
वहीं दूसरी ओर लोकभवन में आयोजित भाजपा विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष के आरोपों का जवाब मजबूत तथ्यों के साथ दिया जाए। सदन में विधायक ज्यादा से ज्यादा जनता की समस्याओं को उठाएं ताकि उनका निराकरण हो सके। विधायक सदन में समय पर आएं और अनुशासन के साथ पूरा वक्त दें। गलत सवाल न पूछें और अपने सुझाव लिख कर दें। उन्होंने विधायकों के साथ 'उरी, दि सर्जिकल स्ट्राइक' फिल्म भी देखी। इस दौरान केंद्रीय मंत्री एवं यूपी प्रभारी जेपी नड्डा और दोनों डिप्टी सीएम भी मौजूद थे। वहीं सपा विधायक दल की बैठक में पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा बसपा और रालोद से किए गए गठबंधन का स्वागत किया गया। प्रस्ताव में भाजपा सरकार की अलोकतांत्रिक गतिविधियों पर रोष व्यक्त किया गया। बैठक में भाजपा सरकार द्वारा सीबीआई का राजनीतिकरण करने, विपक्ष के प्रति संविधान की मंशा के विपरीत अलोकतांत्रिक आचरण करने पर रोष व्यक्त किया गया।
Antrim Aam Budget 2019: 22 करोड़ की आबादी वाले यूपी को सबसे अधिक फायदा


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.