बॉक्स लगाकर भूल गए बिजली अधिकारी सांसत में व्यापारी

2019-06-17T06:00:08+05:30

- नियम के खिलाफ गोलघर एरिया में बिछाया गया अंडर ग्राउंड केबिल

- व्यापारियों की बढ़ी परेशानी, सुधार के लिए लिखा पत्र लेकिन नहीं सुन रहे जिम्मेदार

GORAKHPUR: सिटी के गोलघर और घंटाघर एरिया में अंडरग्राउंड केबिल डालने में जमकर मनमानी की जा रही है। कहीं नगर निगम की नाली में केबिल डाल दिया जा रहा है तो कहीं शॉप के सामने बॉक्स बना दिया जा रहा है। कई जगह तो अंडरग्राउंड केबिल सड़क पर छोड़ देने से जाम की समस्या भी गहराने लगी है। इससे परेशान व्यापारी कई बार बिजली अधिकारियों को पत्र लिख चुके हैं लेकिन कोई राहत नहीं मिल पा रही है।

गोलघर एरिया में 25 करोड़ की लागत से ओवरहेड लाइन हटाई जा रही है। इसके लिए बिजली विभाग ने कार्यदायी संस्था एसटी इलेक्ट्रिकल्स को काम सौंपा है। काम 15 मई तक ही खत्म हो जाना था लेकिन संस्था के ठेकेदारों की मनमानी से काम की रफ्तार तो धीमी है ही, लापरवाही भी जमकर बरती जा रही है। कहीं नगर निगम की नाली में केबिल डाल दिया जा रहा है तो कहीं शॉप के सामने बॉक्स बना दिया जा रहा है। कई जगह तो अंडरग्राउंड केबिल सड़क पर ही छोड़ दिया गया है। उधर इस मनमानी से परेशान दुकानदारों में आक्रोश फैलने लगा है।

निगम की नाली में केबिल, लगेगा पानी

गोलघर में मेन नाले के बगल में नगर निगम की ही नाली है। इस नाली के रास्ते पानी नाले में जाता है। कार्यदायी संस्था ने अंडरग्राउंड केबिल इसी नाली में बिछा दिया है। इस कारण बारिश के दिनों में नगर निगम में वॉटर लॉगिंग होना तय है।

मानकों की जमकर अनदेखी

अंडरग्राउंड केबिल बिछाने में मानकों की जमकर अनदेखी की जा रही है। जमीन से एक मीटर नीचे केबिल बिछाने का आदेश है लेकिन कहीं एक फीट तो कहीं दो फीट गहराई में केबिल बिछाई जा रही है। न तो बिजली निगम के अफसर इस पर ध्यान दे रहे हैं और न ही अंडरग्राउंड केबिल बिछाने की मॉनीटरिंग करने वाले एजेंसी ही इसे ठीक करा रही है।

कंप्लेन पर भी नहीं हुआ कुछ

गोलघर के इंदिरा बाल विहार की दुकान के सामने ठेकेदार ने अंडरग्राउंड केबिल का बड़ा सा बॉक्स रख दिया है। शॉप ओनर ठेकेदार से लगातार बॉक्स थोड़ा हटकर लगाने का अनुरोध करते रहे लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। एसई सिटी से भी कंप्लेन की लेकिन उन्होंने भी ध्यान नहीं दिया। आरोप है कि नियमानुसार बॉक्स दुकान के समाने नहीं लगना था लेकिन ठेकेदार और बिजली अधिकारियों ने मिलकर बॉक्स लगवा दिया।

कोट्स

गणेश चौहारा के पास अंडरग्राउंड केबिल की वजह से व्यापार चौपट हो गया। दुकान के सामने गढ्डा खोदकर ठेकेदार चला गया। बाद में अपने आदमी से आने-जाने का रास्ता बनवाया। अगले दिन खोदाई कर दी। सड़क किनारे केबिल रखने से जाम लग रहा है।

- विनय कुमार सिंह, बिजनेसमैन

बिना योजना के शहर में अंडरग्राउंड केबिल बिछाने का कार्य चल रहा है। केबिल और बॉक्स लगाकर अफसर भूल गए हैं। कार्यदायी संस्था भी कोई कार्य नहीं कर रही है। अफसरों से कंप्लेन करने के बाद भी कोई नहीं सुन रहा है। इससे व्यापारियों का एक तरफ व्यापार प्रभावित हो रहा है दूसरी ओर जाम की समस्या बनी रह रही है।

- विनोद सिंह, बिजनेसमैन

वर्जन

नगर निगम की नाली में अंडरग्राउंड केबिल बिछाने की जानकारी नहीं है। इसकी जानकारी ली जाएगी। यदि ऐसा है तो गलत है।

सुरेश चंद्र, चीफ इंजीनियर, नगर निगम

अंडरग्राउंड केबिल बिछाने में मानकों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। गोलघर सिटी का प्रमुख मार्केट है। यहां के बिजनेसमैन को परेशान नहीं होने दिया जाएगा। काम की जांच कराई जाएगी।

देवेंद्र सिंह, चीफ इंजीनियर, बिजली विभाग

inextlive from Gorakhpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.