अन्य विषयों के रिजल्ट जारी करे यूपीपीएससी

2019-06-08T10:24:19+05:30

एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती के शेष विषयों के रिजल्ट जारी करने की मांग को लेकर प्रतियोगियों का प्रदर्शन

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती को लेकर चल रहे विवाद के बीच शुक्रवार को प्रतियोगियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने रिजल्ट जारी करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान विभिन्न विषयों की शिक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल प्रतियोगी भी मौजूद रहे। एलटी ग्रेड समर्थक मोर्चा के बैनर तले लोकसेवा आयोग पर धरना-प्रदर्शन के बाद प्रतियोगी छात्रों ने सभी विषयों का रिजल्ट एक साथ जारी करने की अपील की।

मिलने पहुंचा प्रतिनिधि मंडल
प्रदर्शन के दौरान मोर्चा के प्रतिनिधि अनिल उपाध्याय के नेतृत्व में पांच प्रतियोगी छात्रों का प्रतिनिधि मंडल ने सचिव जगदीश से मिलने पहुंचा। सचिव की अनुपस्थिति में आयोग के मीडिया प्रभारी सुरेंद्र उपाध्याय से प्रतिनिध मंडल ने मुलाकात की। प्रतियोगियों की बात सुनने के बाद मीडिया प्रभारी सुरेन्द्र उपाध्याय ने प्रतियोगी छात्रों को शेष सभी विषयों का रिजल्ट शीघ्र जारी करने का आश्वासन दिया। साथ ही छात्रों को आश्वस्त किया कि चयनित छात्रों का प्रस्तावित सत्यापन 11 जून से शुरू किया जाना निश्चित है। इसे जारी रखा जाएगा और इसमें किसी भी प्रकार का अवरोध नहीं होगा।

तीन मांगें रखीं
प्रतियोगी छात्रों ने आयोग के सामने तीन मांगे रखीं। इसमें जांच एजेंसियों द्वारा अनुचित साधनों का प्रयोग करने वाले छात्रों को बाहर किया जाए। 11 जून से प्रस्तावित सत्यापन को जारी रखा जाए और इसमें कोई अवरोध न हो। साथ ही शेष सभी आठ विषयों का रिजल्ट जल्दी जारी किया जाए। मोर्चा प्रतिनिधि अनिल उपाध्याय का कहना था कि अगर आयोग उक्त तीन मांगों को मांगे जाने की घोषणा शीघ्र नहीं करता है, तो 10 जून को लोक सेवा आयोग पर विशाल धरना होगा। इस अवसर पर शमशेर सिंह, कुलदीप यादव, क्षमा पटेल, कमलेश प्रसाद, अपर्णा पांडेय, अनुज्ञा दुबे, कृतिका नायक आदि प्रतियोगी छात्र मौजूद रहे।

राज्य कर्मचारी महासंघ का मिला साथ
यूपीपीएससी में पिछले कई दिनों से कर्मचारियों के आंदोलन को राज्य कर्मचारी महासंघ का भी साथ मिल गया। शुक्रवार को पीडब्लूडी कैंपस में अध्यक्ष रुद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें वक्ताओं ने आयोग के कर्मचारियों व प्रतियोगियों के प्रति संवेदना व्यक्त की। इस मौके पर एटक, राज्य कर्मचारी महासंघ, मिनीस्ट्रियल फेडरेशन चतुर्थ श्रेणी, टेकिन कल कर्मचारी संघ के पदाधिकारी भी मौजूद रहे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.