अमृतसर ग्रेनेड अटैक पंजाब सरकार देगी मुअावजा व मुफ्त इलाज राजनाथ बोले होगी सख्त कार्रवाई जांच जारी

2018-11-19T09:42:40+05:30

पंजाब के अमृतसर में ग्रेनेड से हुए अटैक काे लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री आैर देश के गृह मंत्री ने दुख जताते हुए कड़ी निंदा व्यक्त की है। इस मामले की जांच के लिए एनआईए की टीम अमृतसर पहुंच चुकी है। अाइए जानें इस भयावह विस्फोट के बारे में

कानपुर।  अमृतसर के राजासांसी क्षेत्र के आदिवाल गांव में रविवार दोपहर करीब 12 बजे बम धमाका किया गया है।  राजासांसी गांव के निरंकारी भवन जिस समय यह धमाका हुआ उस समय वहां सत्संग चल रहा था। एेसे में यहां 200 से अधिक लोग माैजूद थे। नकाबपोश मोटरसाइकल सवारों द्वारा किए गए ग्रेनेड से अटैक के बाद चीख पुकार मच गर्इ। इस अटैक से 20 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हुए। वहीं हमलावर फरार हाे गए।
पांच लाख मुआवजे का एेलान
सभी घायलों को उपचार हेतु सिविल अस्‍पताल और अमृतसर के गुरु नानकदेव अस्‍पताल मेें भर्ती कराया गया हैै।  वहीं इस धमाके में अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है। पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हमले में मारे गए लोगों के परिवार को पांच लाख का मुआवजा देने आैर घायलों का मुफ्त इलाज का एेलान किया है। फॉरेंसिक एक्सपर्ट्स की टीमें मामले की जांच कर रही हैं। विस्फोट के बाद से इलाके के लोगाें दहशत बनी है।  

सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी

वहीं इस धमाके को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह का कहना है कि अमृतसर में निरंकारी भवन पर हुए ग्रेनेड अटैक हमले से वह काफी दुखी है। उन्होंने ट्वीट भी किया है। राजनाथ सिंह ने मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए घायलों के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना भी की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। पंजाब सरकार से भी इस मामले में कड़े कदम उठाने को कहा है।

अमृतसर हादसा : मां व पत्नियों की पुकार कैसे चलेगा परिवार, सड़क जाम कर की नौकरी की मांग


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.