ऑप्शन बेस्ड इंग्लिश पेपर ही बेस्ट

2019-03-03T06:00:23+05:30

सीबीएसई बोर्ड 12वीं का एग्जाम शुरु,पहले पेपर ने स्टूडेंट्स को दी राहत

इंग्लिश के पेपर में ऑप्शन्स मिलने से टाइम मैनेजमेंट हुआ आसान

देहरादून,

सीबीएसई के 12वीं के बोर्ड एग्जाम सैटरडे से शुरू हो गए। पहले दिन इंग्लिश के पेपर ने स्टूडेंट्स को खासी राहत दी। नए पैटर्न के हिसाब से पूछे गए क्वेश्चन्स में ऑप्शन्स भी दिए गए थे, जिससे स्टूडेंट्स को पेपर सॉल्व करने में कोई प्रॉब्लम नहीं हुई। सीबीएसई के रीजनल ऑफिसर रणबीर सिंह ने बताया कि दून रीजन के 156 एग्जाम सेंटर्स में इंग्लिश का पेपर शांतिपूर्वक तरीके से संपन्न करा लिया गया है। क्वेश्चन पेपर में ऑप्शन मिलने से स्टूडेंट्स को काफी राहत मिली है, जिससे स्टूडेंट्स को पहले पेपर में अच्छे मा‌र्क्स आने की उम्मीद है।

10 बजे के बाद नो एंट्री

कुछ नए इंस्ट्रक्शन और बदले पेपर पैटर्न के साथ सैटरडे को सीबीएसई बोर्ड के 12वीं के मेन एग्जाम शुरू हो गए। ठीक 10 बजे तक एग्जाम सेंटर में सभी स्टूडेंट्स की एंट्री के नए रूल को फॉलो करते हुए सभी एग्जाम सेंटर्स में इंग्लिश का पेपर शुरू हुआ। 10.15 बजे तक क्वेश्चन पेपर भी बांट दिए गए थे। इसके बाद 10.30 से 1.30 बजे तक एग्जाम कंडक्ट हुआ। इस दौरान सीबीएसई की टीम ने सभी स्कूलों की मॉनीटरिंग की और स्कूल्स स्तर पर सख्ती बरती गई। जैसे ही 1.30 बजे स्टूडेंट्स एग्जाम सेंटर्स से बाहर निकले, उनके चेहरों पर एग्जाम और नए पैटर्न को लेकर सेटिस्फाई दिखे.

आप्शन मिलने से राहत

स्टूडेंट्स ने बताया कि अबकी बार क्वेश्चन पेपर में एक क्वेश्चन के बाद उसका ऑप्शन और भी दिया गया था, जिससे स्टूडेंट्स ने अपनी सहूलियत के हिसाब से सॉल्व कर सकें। ऐसे में अच्छे स्कोर आने की उम्मीद बढ़ गई है। दून इंटरनेशनल स्कूल की हेड ऑफ डिपार्टमेंट इंग्लिश हेमा थपलियाल ने बताया कि विगत वर्षो की तुलना में इस बार इंग्लिश का पेपर सरल और एवरेज स्टूडेंट्स के लिए भी अच्छा रहा। ऐसे में उम्मीद है कि स्टूडेंट्स के अच्छे मा‌र्क्स आएंगे।

स्टूडेंट्स बोले

इंग्लिश का क्वेश्चन पेपर नए पैटर्न के हिसाब से पूछा गया था। जिसमें ऑप्शन देकर पैटर्न को सरल बना दिया गया है। मैंने टाइम पर पूरा पेपर सॉल्व किया।

शिवम आनंद, दून इंटरनेशनल स्कूल

क्वेश्चन पेपर इजी था, जिसको टाइम मैनेजमेंट के साथ पूरा कर लिया था। जो नया पैटर्न क्वेश्चन पेपर का दिया गया है, वो काफी हेल्पफुल है।

सक्षम शर्मा, एसजीआरआर रेस कोर्स

इस बार क्वेश्चन पेपर में च्वाइस ज्यादा थी, जिसे अपनी सहूलियत के हिसाब से सॉल्व किया जा सकता है। इससे पेपर आसान हो गया है। पूरे क्वेश्चन एनसीईआरटी बुक्स से लिए गए हैं।

शिवम काला,

जानकी चिल्ड्रन्स एकेडमी

पेपर सरल लेकिन डिस्क्रिप्टिव था। टाइम मैनेजमेंट के साथ सॉल्व किया। ओवरऑल पेपर अच्छा रहा। उम्मीद है मा‌र्क्स भी अच्छे आएंगे।

रोशन, जीआरडी

inextlive from Dehradun News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.