पांच साल से IPL में नहीं बिक रहे इस भारतीय बल्लेबाज ने ठोंकी पहली टी20 सेंचुरी

2019-02-22T01:14:47+05:30

सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्राॅफी में गुरुवार को सौराष्ट्र और रेलवे के बीच एक मैच खेला गया। वैसे तो सौराष्ट्र यह मैच हार गया मगर टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा का शतक काफी चर्चा में रहा। पुजारा की यह पहली टी20 सेंचुरी है।

कानपुर। भारतीय टेस्ट क्रिकेट की नई दीवार कहे जाने वाले चेतेश्चर पुजारा का गुरुवार को एक नया अवतार देखने को मिला। इंदौर में खेले गए सैयद मुश्ताक अली ट्राॅफी के एक मैच में पुजारा ने तेजतर्रार पारी खेली शानदार शतक जड़ा। पुजारा का टी-20 क्रिकेट इतिहास में यह पहला शतक है। क्रिकइन्फो पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, पुजारा ने ये शतकीय पारी रेलवे के खिलाफ खेली। ग्रुप सी के इस मैच में रेलवे ने सौराष्ट्र को पहले बैटिंग का न्यौता दिया। सौराष्ट्र की तरफ से हार्विक देसाई और चेतेश्वर पुजारा ओपनिंग करने आए। बाकी बल्लेबाज तो आउट हो कर चले गए मगर पुजारा अंत तक खेलते रहे। इसी दौरान उन्होंने 61 गेंदों में अपना पहला टी-20 शतक पूरा किया। इस पारी में पुजारा ने 14 चौके और एक छक्का लगाया। हालांकि पुजारा की यह पारी टीम को जीत नहीं दिला सकी और रेलवे ने सौराष्ट्र को पांच विकेट से हरा दिया।

MUST WATCH: @cheteshwar1 becomes first @saucricket player to hit a T20 💯. Take a look at his lightning century in #SyedMushtaqAliTrophy
🔗 https://t.co/dCQoSLuE0K pic.twitter.com/qUAYwbkytO

— BCCI Domestic (@BCCIdomestic) 21 February 2019


पांच साल से नहीं खेल रहे आईपीएल
मौजूदा समय में भारत के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटरों में शुमार चेतेश्वर पुजारा को टी-20 मैच खेलते 12 साल हो गए। इस दौरान उन्होंने सिर्फ 59 मैच खेले इसमें आईपीएल मैच भी शामिल हैं। पुजारा ने 2010 से 2014 के बीच तीन आईपीएल टीमों (कोलकाता नाइट राइडर्स, राॅयल चैलेंजर्स बैंगलोर और किंग्स इलेवन पंजाब) के साथ मैच खेला। हालांकि आईपीएल में उन्हें ज्यादा सफलता मिल नहीं पाई। यही वजह है कि पिछले पांच सीजन से वह नीलामी में हिस्सा तो ले रहे मगर कोई खरीददार नहीं मिला।
वनडे टीम से 2014 से बाहर
पुजारा के टी-20 करियर की बात करें तो उनके नाम 27.81 की औसत से 1196 रन दर्ज हैं। इसमें एक शतक और छह अर्धशतक शामिल हैं। हालांकि पुजारा को अभी तक भारत की तरफ से टी-20 इंटरनेशनल मैच खेलने का मौका नहीं मिला है। यही नहीं वनडे टीम से वह पांच साल से बाहर हैं। दाएं हाथ के मध्यक्रम बल्लेबाज पुजारा ने अपना आखिरी वनडे 2014 में खेला था। इस बल्लेबाज को सिर्फ 5 वनडे में मौका मिला है जिसमें उनके नाम 51 रन दर्ज हैं।

Ind vs Aus : सीरीज शुरु होने से दो दिन पहले ये विवादित भारतीय क्रिकेटर हुआ टीम से बाहर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.