एवरेस्ट के नजदीक प्रदूषण नहीं फैलने देगा चीन तिब्बत में बैन होंगे पाॅल्युशन फैलाने वाले वाहन

2018-10-22T01:33:08+05:30

माउंट एवरेस्ट के नजदीक तिब्बत में प्रदूषण फैलाने वाले टूरिस्ट वाहनों पर चीन ने रोक लगाने की घोषणा की है। यह बैन अगले साल से लागू हो जाएगा।

बीजिंग (पीटीआर्इ)। माउंट एवरेस्ट के नजदीक तिब्बत में बेस कैंप के आसपास अब प्रदूषण फैलाने वाले वाहन नहीं चल सकेंगे। चीन ने एेसे वाहनों पर बैन लगा दिया है, जो अगले साल से लागू हो जाएगा। चीन ने यह कदम पर्यावरण के नाजुक हालात को देखते हुए उठाया है। चीन-तिब्बत आॅनलाइन रिपोर्ट के मुताबिक, बेस कैंप के इलाकों में गोल्फ मैदान में बैटरी चालित वाहनों जैसी पर्यावरण अनुकूल गाड़ियों के इस्तेमाल की कोशिश की जाएगी। एेसे स्थानीय लोग जो गरीबी रेखा के नीचे हैं, उन्हें टूर गार्इड आैर एेसे वाहनों के चालक के तौर पर नियुक्त किया जाएगा।
प्रदूषण रुकेगा आैर रोजगार भी मिलेगा
सरकारी ग्लोबल टाइम्स ने टिंगरी टिबटेन के उप प्रमुख के हवाले से कहा है कि चीन के इस कदम से पर्यावरण की सुरक्षा के साथ-साथ स्थानीय स्तर पर गरीब लोगों की आजीविका की भी व्यवस्था होगी। इससे यहां की जलवायु के साथ-साथ लोगों की माली हालत में भी सुधार देखने को मिलेगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि कूड़ा-करकट के निस्तारण में इलाके की क्षमता सीमित है। एेसे में सावधानी बरतना बहुत जरूरी है ताकि प्रकृति अपने संतुलन का काम कर सके। इलाके को साफ-सुथरा रखने के लिए एक क्लीनिंग कंपनी को काम पर लगाया जाएगा। वे हर आगंतुक से कचरा से भरा बैग लेंगे ताकि वे भी साफ-सफार्इ के लिए प्रोत्साहित हो सकें।
2017 में एक लाख लोग आए घूमने
सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यहां बेस कैंप आैर आसपास के इलाकों में 2017 के दौरान एक लाख से ज्यादा लोग घूमने आए, इनमें 40 हजार पर्वतारोही भी शामिल थे। अप्रैल से अब तक दुनिया की सबसे ऊंची चोटी से 2.26 टन मानव मल, एक टन पर्वतारोहरण से संबंधित कचरा आैर 5.24 टन रोजमर्रा से जुड़ा कचरा साफ किया जा चुका है। रिपोर्ट में यह भी बात सामने आर्इ है कि समुद्र तल से 5200 आैर 6500 मीटर के बीच की ऊंचार्इ से तकरीबन आठ टन कचरा साफ किया गया है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.