सिटी बसों में सफर करने पर 20 प्रतिशत की छूट

2019-06-12T06:00:01+05:30

150 सिटी बसें चल रहीं

35 हजार रोज करते हैं सफर

12 हजार एमएसटी होल्डर

- नगर विकास निदेशालय के निर्देश के बाद सिटी बस प्रबंधन ने उठाया कदम

- नए कदम से स्टूडेंट्स को होगा सबसे ज्यादा घाटा

sanjeev.pandey@inext.co.in

LUCKNOW:

सिटी बसों में एमएसटी लेकर सफर करने वाले पैसेंजर्स को जेब अब ढीली करनी होगी। सामान्य यात्री हों, सीनियर सिटीजन हों या फिर स्टूडेंट्स अब सभी को एमएसटी बनवाने पर मात्र 20 प्रतिशत की ही छूट मिलेगी। अभी इन्हें अलग-अलग छूट दी जाती रही है। इस व्यवस्था के लागू होने से सर्वाधिक नुकसान स्टूडेंटस को होगा। सिटी बसों में स्टूडेंट्स से सफर के लिए जहां आधा किराया लिया जाता था वहीं अब उन्हें मात्र 20 प्रतिशत ही छूट मिलेगी। सिटी बस प्रबंधन के अनुसार नगर विकास निदेशालय के आदेश पर अब यह व्यवस्था शुरू की गई है।

जल्द मिलेंगे स्मार्ट कार्ड

सिटी बस प्रबंधन के अधिकारियों के अनुसार मेट्रो में यूज किए जाने वाले गो स्मार्ट कार्ड का संचालन सिटी बसों में भी किया जाना है। जल्द ही सिटी बसों में एमएसटी बनवाने वालों को यह कार्ड मिलने शुरू हो जाएंगे। इसी कार्ड को लेकर पिछले कई दिनों से बैठक और रिसर्च चल रही थी। एमएसटी के पेंच के चलते स्मार्ट कार्ड का संचालन नहीं हो पा रहा था। लेकिन अब सभी को 20 प्रतिशत की दर से ही छूट दिए जाने की व्यवस्था से स्मार्ट कार्ड का रास्ता साफ हाे गया है।

स्टूडेंट्स होंगे परेशान

इसका खामियाजा सर्वाधिक स्टूडेंट्स को भुगतना होगा। सिटी बस प्रबंधन के अधिकारियों के अनुसार कक्षा दस तक के स्टूडेंट्स को सिटी बस की एमएसटी 30 दिनों के लिए मात्र 400 रुपए की पड़ती थी लेकिन नई व्यवस्था के तहत अब उसे सामान्य सिटी बस की एमएसटी लेने पर 20 प्रतिशत की छूट के बाद उसे 720 रुपए चुकाने होंगे। वहीं इलेक्ट्रिक सिटी बसों की एमएसटी के लिए उसे अब 960 रुपए देने होंगे। ऐसे में दोगुने का अंतर आ गया है। 15 किमी के सफर में स्टूडेंट्स को करारा झटका लगेगा। एमएसटी की पूर्व निर्धारित प्रक्रिया के तहत जहां स्टूडेंट्स को 15 किमी तक सफर करने वाले छात्रों को 600 रुपए देना पड़ता था। वहीं अब एमएसटी बनवाने पर साधारण बस में 960 रुपए और वातानुकूलित बस की एमएसटी के लिए 1200 रुपए देने होंगे।

सिर्फ 20 प्रतिशत की छूट

नई प्रक्रिया के तहत एमएसटी की जगह अब स्मार्ट कार्ड बनाए जाएंगे। इसमें पैसेंजर्स को 20 प्रतिशत की छूट ही मान्य है। सिटी बस प्रबंधन के अनुसार नई व्यवस्था के तहत 30 दिन में 60 ट्रिप का जो किराया होगा, उसका 20 प्रतिशत छूट ही एमएसटी लेने वालों को मिलेगा। इससे पूर्व की एमएसटी की सभी सुविधाएं खत्म होंगी।

कोट

सिटी बसों में एमएसटी बनवाने वालों को कुल किराए में मात्र 20 प्रतिशत छूट ही मिलेगी। नगर विकास निदेशालय के बाद सिटी बसों ने यह कदम उठाया है। जल्द ही सिटी बसों में स्मार्ट कार्ड का संचालन शुरू होगा। इसी के चलते जहां-जहां सिटी बसों को संचालन हो रहा है, वहां पर भी अब 20 प्रतिशत छूट का नियम ही फॉलो किया जा रहा है।

आरिफ सकलेन

एमडी, सिटी बस प्रबंधन

बाक्स

सिटी बस का किराया

किमी सीएनजी बस इलेक्ट्रिक बस

0- 3 5 10

3-6 10 15

6-10 15 20

10- 14 20 25

14-17 25 30

17 -20 30 35

20 - 25 35 40

25 -30 35 40

30 से ऊपर -- 45

बाक्स

मासिक पास की दरें

किमी सामान्य यात्री सीनि। सिटीजन स्टूडेंट 10वीं तक स्टूडेंट 10 से आगे, 21 वर्ष से अधिक

0-9 -540 450 300 450

9.1 से 14 720 600 400 600

14.1 से 20 1080- 900 600 900

20.1 किमी से अधिक 1260 1050 700 1050

सभी मार्गो के लिए 1440 1200 800 1200

inextlive from Lucknow News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.