City Of Dreams Web Series Review कहानी बस इधर उधर ही घूमती रह जाती है

2019-06-04T10:12:21+05:30

नागेश कुकुनूर की पोलिटिकल सिटी ऑफ ड्रीम्ज की एक झलक देती है ये सीरीज

OTT: Hotstar
Cast: नागेश कुकुनूर (डायरेक्टर), अतुल कुलकर्णी, प्रिया बापट, सचिन पिलगांवकर, एजाज खान, सिद्धार्थ चांडेकर

Rating: 2 STARS
कहानी
नालयक उत्तराधिकारी और उसकी ब्याहता बहन की सत्ता को ले के लड़ाई।
समीक्षा
राजनीतिक कहानियां तो फ़ेवरिट जॉनर है OTT के दर्शकों के लिए और फिर अगर वो मुम्बई में बेस्ड राजनीति हो तो कहानियां कम नहीं है, पता नहीं क्यों इस सीरीज में कहानियां तो बहुत हैं पर मोस्ट ऑफ देम सेंट्रल कहानी से दूर दूर तक कोई डायरेक्ट वास्ता नहीं रखतीं। भाई बहन के सत्ताप्रेम की कहानी अच्छी है, पर इतनी भी अच्छी नहीं कि बांध कर रख सके। अगर उसपे ध्यान जाता भी है तो कुछ साइड प्लॉट आपका ध्यान भटकाते हैं, मेन विलेन हैं इस सीरीज के किरदारों की पर्सनल कहानियां। बिना किसी खास मतलब के आये सेक्स और वायलेंस भी जबान का टेस्ट खराब करता है। शुरुवात के पांच एपिसोड अझेल हैं, और पांच के बाद जब बात बनती है तब तक हिम्मत जवाब दे जाती है।
अदाकारी
काम सभी का बढ़िया है पर फिर भी इतना भी अच्छा नहीं है कि तारीफ की जाए, फिर भी एजाज खान बढ़िया काम करते हैं।
कुल मिलाकर ये वाला ड्रामा थोड़ा ज़्यादा ही विमसिकल सा हो गया, बहुत सारे प्लाट या किरदार बेकार से हो गए और यही कारण है कि कुछ एपिसोड के बाद हिम्मत जवाब दे जाती है जब कहानी बस इधर उधर ही घूमती रह जाती है। जब तक अंत आता है और जो कि इतना बुरा नहीं है तब तक इसको देख पाना डिफिकल्ट है।
Reviewed By- Shakeb Sayed



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.