सीएम की फटकार के बाद हुए जांच के आदेश

2015-09-08T07:00:21+05:30

जूडो कोच बदसलूकी प्रकरण:

- सीएम ने लिया जूडो कोच के साथ बदसलूकी का मामला संज्ञान

- मेरठ के तत्कालिक आरएसओ पर लगे थे आरोप

MEERUT : सीएम का दबाव कहें या फिर कुछ और लेकिन यूपी खेल निदेशालय की ओर से मेरठ एडमिनिस्ट्रेशन की ओर से आरएसओ द्वारा जूडो कोच के साथ बदसलूकी के मामले की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। वहीं तत्कालिक आरएसओ पर और भी कई आरोप लग चुके हैं। उन मामलों की भी जांच भी की जानी है।

बढ़ा सीएम का दबाव

कोच के साथ बदसलूकी के मामले में जांच में कोई प्रगति न होने के कारण सीएम ने स्पो‌र्ट्स डायरेक्ट्रेट को जमकर लताड़ लगाई है, जिसके बाद डायरेक्टर स्पो‌र्ट्स ने डीएम को लेटर लिखकर इस मामले में मजिस्ट्रेट जांच करने के आदेश जारी किए हैं। डीएम के पास आए लेटर में साफ लिखा है कि ये मामला सीएम के संज्ञान में है। इसकी जांच जल्द से जल्द कराकर रिपोर्ट सौंपी जाए।

फंसे हैं आरएन सिंह

पूर्व आरएसओ और डिप्टी डायरेक्टर स्पो‌र्ट्स लखनऊ आरएन सिंह के खिलाफ महिला जूडो कोच ने 21 मार्च को सीएम को लेटर लिखकर आरोप लगाया था कि मेरठ के तत्कालीन आरएसओ आरएन सिंह गालीगलौज के साथ ही शर्त न मानने पर नौकरी लेने की धमकी देते थे। अपनी पहुंच की धौंस देते हुए वह लगातार कोच का मानसिक उत्पीड़न करते थे। कोच ने प्राकृतिक न्याय की अपील करते हुए तत्कालीन आरएसओ को तत्काल हटाने की भी मांग की थी। बाद में शिकायत सीएम ऑफिस पहुंची तो शासन हरकत में आ गया।

बीच में शुरू हुई थी लेटरबाजी

8 अप्रैल को मुख्यमंत्री कार्यालय के लोक शिकायत विभाग में पत्र पहुंचा था, जिस पर खेल सचिव को जांच का आदेश जारी किया था। यहां से खेल निदेशालय एवं जिलाधिकारी से जांच रिपोर्ट तलब की गई थी। मुख्यमंत्री कार्यालय ने पांच मई को खेल निदेशक को रिमाइंडर भेजकर सिर्फ 10 दिनों में जांच रिपोर्ट देने के लिए कहा था। इससे अलावा तत्कालीन क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी आरएन सिंह पर तीरंदाजी टारगेट को जबरन जलवाने, हॉस्टल के खिलाडि़यों से गालीगलौज और चपरासी के साथ मारपीट का मामला भी जांच के दायरे में है।

लेटर आया है। हमारी ओर से एडीएम ई को लेटर भेजकर मामले की जांच कराने के आदेश जारी कर दिए है। जल्द ही रिपोर्ट आ जाएगी।

- पंकज यादव, डीएम

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.