सीएमओ ऑफिस में जमकर तोड़फोड़

2014-08-15T07:01:14+05:30

- बेली, कॉल्विन और सीएचसी, पीएचसी के डॉक्टरों ने किया हंगामा

- सीएमओ ऑफिस के बाबुओं से हुई झड़प

- मेजा सीएचसी के चिकित्सक की पिटाई के विरोध में पहुंचे थे डॉक्टर

- कैंट थाने में डॉक्टरों के खिलाफ दी गई तहरीर

- बेली, कॉल्विन और सीएचसी, पीएचसी के डॉक्टरों ने किया हंगामा

- सीएमओ ऑफिस के बाबुओं से हुई झड़प

- मेजा सीएचसी के चिकित्सक की पिटाई के विरोध में पहुंचे थे डॉक्टर

- कैंट थाने में डॉक्टरों के खिलाफ दी गई तहरीर

ALLAHABAD: allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सीएचसी मेजा में तैनात मेडिकल ऑफिसर जुबैर अहमद की पिटाई के बाद हेल्थ डिपार्टमेंट में महाभारत शुरू हो गया है। थर्सडे को सीएमओ ऑफिस में डॉक्टरों ने जमकर हंगामा किया और विरोध जताया। ऑफिस के कर्मचारियों के मुताबिक डॉक्टरों ने कर्मचारियों से गाली-गलौज की और सीएमओ के केबिन में घुस कर तोड़फोड़ की। डॉक्टर जहां मेडिकल ऑफिसर की पिटाई करने वाले बाबुओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। वहीं सीएमओ ऑफिस के बाबुओं ने गाली-गलौज, तोड़फोड़ और हंगामा करने वाले डॉक्टरों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है।

मेडिकल ऑफिसर की पिटाई से भड़के डॉक्टर

सीएचसी मेजा में तैनात डॉ। जुबैर अहमद की सोमवार को सीएमओ ऑफिस के कुछ बाबुओं ने पिटाई कर दी। इसके बाद उन्होंने बेली हॉस्पिटल में मेडिकल कराने के साथ ही इलाज कराया। थर्सडे को मेडिकल ऑफिसर की पिटाई किए जाने की जानकारी जब डॉक्टरों को हुई तो डॉक्टरों का गुस्सा भड़क उठा। बेली, काल्विन हॉस्पिटल और सीएचसी, पीएचसी के कुछ डॉक्टरों ने मीटिंग की और विरोध जताया।

हंगामा करते हुए सीएमओ ऑफिस पहुंचे डॉक्टर

दोपहर करीब दो बजे तक ओपीडी करने के बाद डॉक्टरों ने मीटिंग की और विरोध जताते हुए सीएमओ ऑफिस पहुंचे। जहां जमकर हंगामा और नारेबाजी की। सीएमओ ऑफिस के कर्मचारियों का कहना है कि डॉक्टर्स गाली-गलौज करते हुए सीएमओ ऑफिस पहुंचे थे।

पहले ललकारा, फिर की तोड़फोड़

कर्मचारियों का आरोप है कि हंगामा करते हुए पहुंचे डॉक्टरों ने पहले तीन-चार बाबुओं को ललकारा। उनका नाम लेते हुए बुलाया। फिर गाली देते हुए सीएमओ ऑफिस में घुस कर हंगामा करने लगे। सीएमओ ऑफिस में नहीं मिले तो सीएमओ के केबिन में ही तोड़फोड़ करने लगे। सीएमओ की कुर्सी को मेज पर पटक दिया। आस-पास रखी अन्य कुर्सियों को भी जमीन पर पटका। सीएमओ ऑफिस के सभी कर्मचारी जब तक एकजुट होते और पुलिस पहुंचती। इसके पहले ही डॉक्टर्स वहां से निकल गए।

डॉक्टरों ने बाबुओं पर लगाया घूसखोरी का आरोप

सीएमओ ऑफिस में हंगामा करते हुए पहुंचे डॉक्टर्स बाबुओं पर घूसखोरी का आरोप लगा रहे थे। डॉक्टरों का कहना था कि बगैर पैसा लिए सीएमओ ऑफिस के कर्मचारी कोई काम नहीं करते हैं। डॉ। जुबैर अहमद भी इसी तरह की मनमानी का शिकार हुए हैं। जिनसे एक लाख रुपए वेतन रिलीज करने के बदले मांगा जा रहा था। अगर उनका वेतन दे दिया गया होता तो विवाद न होता। इस बार उन्हें नहीं छोड़ा जाएगा। उनकी पोल अधिकारियों के सामने खोली जाएगी।

इस बार घर वालों से ही ठनी

सीएमओ ऑफिस के कर्मचारियों पर कई बार घूसखोरी का आरोप लगा है। अभी तक बाहरी लोग ही विभाग के कर्मचारियों पर आरोप लगाते थे। लेकिन इस बार सीएमओ ऑफिस के कर्मचारियों का सामना घर के सदस्यों, यानी हेल्थ डिपार्टमेंट के डॉक्टरों से हुआ है। डॉक्टरों ने भी मनमानी का खुलासा करने की ठान ली है।

इमर्जेसी में थे डा। जुबैर

थर्सडे को जब सीएमओ ऑफिस में हंगामा हुआ उसके पहले मेजा सीएचसी के मेडिकल ऑफिसर डा। जुबैर अहमद बेली हॉस्पिटल के इमर्जेसी वार्ड में एडमिट थे।

डा। जुबैर अहमद का है ये आरोप

मेजा सीएचसी के मेडिकल ऑफिसर डा। जुबैर अहमद ने बताया कि मेडिकल लीव और एडजस्टमेंट के कारण पिछले करीब छह महीने से मेरी सैलरी रुकी हुई थी। मैंने कई बार सीएमओ ऑफिस के लिपिकों से बात की तो वे आजकल कर रहे थे। सीएमओ ऑफिस के एक लिपिक ने वेतन रिलीज करने के बदले में एक लाख रुपए की मांग की। सीएमओ से मैंने शिकायत की तो उन्होंने आकर बात करने को कहा था। सोमवार को जब मैं दिन में उनसे मिलने गया तो बाबुओं ने मिलकर मुझे पीटा। घटना से सीएमओ को अवगत करा दिया गया है। कार्रवाई की मांग की गई है। अब आगे सीएमओ क्या कर रहे हैं, मुझे जानकारी नहीं।

मंडे को सीएमओ ऑफिस के कुछ बाबुओं ने सीएचसी मेजा के मेडिकल ऑफिसर डॉ। जुबैर अहमद की पिटाई कर दी थी। इसी संबंध में सीएमओ से मिलकर शिकायत करने और ज्ञापन देने के लिए डॉक्टर सीएमओ ऑफिस गए थे। डॉक्टर तो केवल बात करने गए थे, लेकिन बाबुओं ने हंगामा किया। अब वही हंगामे को तोड़फोड़ दिखा रहे हैं।

डा। अजय कुमार चढ्डा

सीएमएस

कॉल्विन हॉस्पिटल

आम दिनों की तरह थर्सडे को भी ओपीडी चली। दो बजे तक सभी डॉक्टर ओपीडी में रहे। इसके बाद क्या हुआ, मुझे कोई जानकारी नहीं है।

डा। यूसी द्विवेदी

सीएमएस

तेज बहादुर सप्रू हॉस्पिटल

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.