आचार संहिता के साथ हटेगी विकास कार्यो से रोक

2019-05-25T06:00:05+05:30

27 मई रात्रि 12 बजे के बाद हट जाएगी आदर्श आचार संहिता

विकास कार्यो को लगेंगे पंख, रुकी योजनाएं पकड़ेगी रफ्तार

MEERUT : 27 मई रात्रि 12 बजे के बाद देश से आदर्श आचार संहिता हट जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर गत 10 मार्च से सामान्य लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आचार संहिता प्रभावी थी। आचार संहिता के चलते विकास कार्यो की टेंडर प्रक्रिया पर ब्रेक लग गया था तो वहीं नए फैसलों और प्रावधानों को रोक दिया गया था। 28 मई से एक बार फिर सरकारी कामकाज पटरी पर आएगा और अटके पड़े विकास कार्यो को गति मिलेगी। शहर के प्रमुख विकास कार्य जो आचार संहिता हटने की बाट जोह रहे हैं

403 करोड़ से होगा कायाकल्प

पीपीपी मॉडल के तहत प्रदेश के 40 से अधिक बस अड्डों को मॉल कल्चर मल्टी स्टोरी तर्ज पर विकसित किया जाना था। इसके लिए चुनाव आचार संहिता से पहले मेरठ के सोहराबगेट और भैंसाली डिपो के लिए करीब 112 और 291 करोड़ रुपए का टेंडर भी निकाला गया था, लेकिन इस बीच में आचार संहिता लगने के कारण दोनो बस डिपो के विकास की योजना पर ब्रेक लग गए। अब इस माह चुनाव आचार संहिता के बाद इस योजना के तहत दोबारा टेंडर प्रक्रिया कर विकास को गति दी जाएगी।

प्लॉट योजना मिलेगी गति

आचार संहिता से पहले आवास विकास की जागृति विहार एक्सटेंशन योजना संख्या 11 में प्लॉट योजना के तहत पहले चरण के आवंटन निकाले गए थे। इसके तहत हजारों की संख्या में आवेदकों ने आवेदन किया था, लेकिन आवेदन प्रक्रिया पूरा होने से पहले ही आचार संहिता के कारण योजना पर ब्रेक लग गए। इस दौरान आवास योजना में विकास कार्य जैसे सीवर, सड़क व पार्क निर्माण का काम भी रोक दिया गया। अब अगले माह से आचार संहिता हटने के बाद आवंटन और विकास प्रक्रिया दोबारा शुरु की जाएगी। अधिशासी अभियंता प्रमोद सिंह ने कहा कि आचार संहिता अब अगले माह प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा।

सरपट दौड़ेगी रैपिड रेल प्रोजेक्ट

रैपिड रेल ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) के तहत होने वाले निर्माण कार्यो की टेंडर प्रक्रिया अब आरंभ हो जाएगी। गौरतलब है कि दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस के लिए साहिबाबाद से दुहाई तक 4 स्टेशन्स के बीच एलीवेटेड ट्रैक और स्टेशन्स के निर्माण प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है। आचार संहिता के हटने के बाद दुहाई से मेरठ के बीच कई निर्माणों के लिए टेंडर प्रक्रिया आरंभ हो सकेगी तो वहीं रोड वाइंडिंग का काम भी शुरू होगा। फिलहाल नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) द्वारा ट्रैक के आसपास साइल टेस्टिंग का काम हो चल रहा है।

पूरा होगा मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे

गत 4 वर्षो से निर्माणाधीन दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के निर्माण में कुछ आधे-अधूरे कार्य आड़े आ रहे हैं। आचार संहिता हटने के बाद इन बाधाओं को दूर कर एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य पूर्ण किया जाएगा। आचार संहिता के चलते कुछ किसानों को मुआवजा नहीं बांटा जा सका है तो वहीं कब्जे की प्रक्रिया भी अधर में है। वहीं मेरठ मेट्रो को लेकर शासन स्तर पर कार्यवाही को आगे बढ़ाया जाएगा। मेरठ विकास प्राधिकरण द्वारा पार्को की जीर्णोद्धार, नए निर्माणों पर रोक थी, आचार संहिता हटने के बाद यह कार्य पूरे हो सकेंगे जबकि मकानों और प्लाट्स के संशोधित रेट्स भी 27 मई के बाद भी तय होंगे।

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.