Commuters Tortured

2011-12-19T16:49:00+05:30

लखनऊ में एक पॉलिटिकल पार्टी की रैली कानपुराइट्स के लिए परेशानी का सबब बन गई

सिटी से 40 बसों को रैली में लगाया गया, जिससे कानपुराइट्स को ट्रांसपोर्टेशन की प्रॉब्लम हुई। ट्रेनों में
भी रैली का असर दिखा। कई एलसी ट्रेनों में तो पार्टी कार्यकर्ताओं ने कब्जा ही कर लिया।

Buses के लिए मारामारी
संडे को सिटी बसों की कमी का असर रोड्स पर दिखा। पैसेंजर्स रोड्स पर बसों का इंतजार करके ठंड में परेशान होते रहे। बहुत इंतजार करने के बाद जब बस स्टॉप पर पहुंची तो बैठने के लिए लोगों में होंड़ मच गई।
Train का भी बुरा हाल
रैली में शामिल होने के लिए सिटी से बड़ी संख्या में लोगों ने ट्रेनों का सहारा लिया। कुछ पैसेंजर्स ने तो एलसी के कई कोच में कब्जा
कर लिया।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.