यात्रा में अव्यवस्थाओं पर विपक्ष ने सरकार को घेरा

2019-06-12T06:01:02+05:30

- यात्रा व्यवस्था पर विपक्ष के निशाने पर सरकार, मांगा जवाब

>DEHRADUN: राज्य में आ रहे हजारों यात्रियों व सैलानियों को जाम के झाम जैसी समस्याओं से हो रही परेशानी को लेकर कांग्रेस ने सरकार को घेरा है। विपक्ष का कहना है कि राज्य में चल रही चारधाम यात्रा व टूरिज्म सीजन में भाजपा सरकार यात्रियों व टूरिस्ट को सुविधाएं मुहैया नहीं करा पा रही है। सबसे बड़ी समस्या जाम की आ रही है। हालात यह हैं दर्शन न होने के कारण मजबूर होकर यात्रियों को वापस तक लौटना पड़ रहा है।

जाम से यात्री भूख, प्यास से हलकान

प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने यात्रा सीजन में व्यवस्थाओं में बरती गई लापरवाही पर कहा कि इससे सरकार की पर्यटन व तीर्थाटन के प्रति गंभीरता प्रदर्शित होती है। आरोप लगाया कि सरकार ने वास्तव में चारधाम व टूरिज्म सीजन में आने वाले तीर्थ यात्रियों और टूरिस्ट्स के लिए कोई व्यवस्था की ही नहीं थी। इसी लापरवाही की वजह से पूरे राज्य में अराजकता जैसी स्थितियां पैदा हो गई हैं। तराई से लेकर पहाड़ों में हर जनपद में कई-कई किलोमीटर जाम लग रहा है। जहां देश-दुनिया के टूरिस्ट भूख व प्यास से हलकान हो रहे हैं। जबकि अधिकांश इलाकों में एटीएम में पैसे नहीं हैं, कहीं पेट्रोल व डीजल की किल्लत झेलनी पड़ रही है। कपाट खुलने से लेकर अब तक तीन दर्जन से अधिक यात्रियों की हार्टअटैक व दूसरी बीमारियों से मौत हो चुकी है। ऑक्सीजन की कमी होने व समय पर ट्रीटमेंट न मिल पाने के कारण यह स्थिति पैदा हो रही हैं। सूर्यकांत धस्माना का कहना है कि स्टेट में तीर्थाटन व टूरिज्म राज्य की आर्थिकी की लाइफ लाइन है। जिससे करीब 5 लाख फैमिलीज सीधे रोजगार के तौर पर जुड़े हुए हैं। टूरिज्म स्टेट का दावा करने के बावजूद यात्री व टूरिस्ट परेशान होंगे, तो इसका देश-दुनिया में क्या मैसेज जाएगा।

महाभारत सर्किट याेजना पर केंद्र से बातचीत

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने ट्यूजडे को नई दिल्ली में केंद्रीय पर्यटन मंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद सिंह पटेल से मुलाकात की। सतपाल महाराज ने केंद्रीय मंत्री को उत्तराखंड की चारधाम यात्रा की जानकारी देते हुये कहा कि अब तक करीब 16.36 लाख यात्री दर्शन कर चुके हैं। राज्य के लिए यह गौरव की बात है। कहा, स्टेट में टूरिज्म की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने राज्य में महाभारत सर्किट योजना के विस्तार के लिये केंद्रीय मंत्री से बातचीत भी की। बदले में केंद्र सरकार ने उत्तराखंड को यथासंभव टूरिज्म डेवलपमेंट के लिए हेल्प देने का भरोसा दिया।

inextlive from Dehradun News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.