गर्दन में तावीज पहन देने जा रहे थे कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा दबोचे गए

2019-01-28T10:42:29+05:30

पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा में एक बार फिर सॉल्वर्स गैंग ने अपनी आमद दर्ज कराई

- एसटीएफ नोएडा यूनिट ने मथुरा में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस समेत तीन अभ्यर्थियों को किया अरेस्ट

- लखनऊ में दबोचे गए सॉल्वर्स गैंग के तीन सदस्य

- आगरा में भर्ती परीक्षा में पास कराने के नाम पर ठगी करने वाले तीन जालसाज अरेस्ट

- विभिन्न जिलों की पुलिस ने 15 आरोपियों को किया अरेस्ट

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा में एक बार फिर सॉल्वर्स गैंग ने अपनी आमद दर्ज कराई। हालांकि, परीक्षा को लेकर हाई अलर्ट यूपी एसटीएफ की टीमों ने मथुरा, लखनऊ व आगरा से कुल नौ आरोपियों को दबोच लिया। जहां मथुरा में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के जरिए परीक्षा में सेंध लगाने की कोशिश कर रहे तीन आरोपियों को अरेस्ट किया गया वहीं, लखनऊ में सॉल्वर्स गैंग के तीन आरोपियों को दबोच लिया गया। आगरा में परीक्षा में पास कराने के नाम पर ठगी कर रहे तीन आरोपी एसटीएफ टीम के हत्थे चढ़ गए। सभी आरोपियों को एफआईआर दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

डिवाइस के जरिए पेपर सॉल्व की थी तैयारी
एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने बताया कि रविवार को प्रदेश भर के 762 परीक्षा केंद्रों में दो पालियों में आयोजित की गई पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा को लेकर एसटीएफ टीमों को एक्टिव किया गया था। इसी दौरान एसटीएफ नोएडा यूनिट को इंफॉर्मेशन मिली कि मथुरा में दूसरी पाली की परीक्षा में कुछ अभ्यर्थी इलेक्ट्रॉनिक ब्लूटूथ डिवाइस की मदद से पेपर सॉल्व करने वाले हैं। जानकारी मिलने पर एसटीएफ टीम ने आनन-फानन थाना हाइवे क्षेत्र में घेराबंदी कर गैंग के सरगना अलीगढ़ निवासी पवन को दबोच लिया। उसके कब्जे से सिम बेस्ड ब्लूटूथ डिवाइस बरामद की गई। पूछताछ के दौरान आरोपी पवन की निशानदेही पर टीम ने छापेमारी कर दो अन्य आरोपियों अलीगढ़ निवासी राजकुमार व जीवन सिंह को भी अरेस्ट कर लिया। उनके कब्जे से दो इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बरामद की गई। इसके अलावा एक वेब कैमरा, 22 ब्लूटूथ इयरफोन, 11 अभ्यर्थियों की मार्कशीट व एडमिट कार्ड की फोटोकॉपी, एक बोलेरो व 15000 रुपये नकद बरामद हुए।

सिम के जरिए मोबाइल नेटवर्क से रहते थे कनेक्ट
एसएसपी सिंह ने बताया कि आरोपियों के कब्जे से बरामद डिवाइस में माइक्रो सिम लगता है। जिसके जरिए अभ्यर्थी बाहर बैठे सॉल्वर के कॉन्टैक्ट में रहता था। राजकुमार परीक्षा केंद्र के बाहर बैठकर डिवाइस के जरिए पेपर सॉल्व कराता था जबकि, जीवन सिंह अभ्यर्थी था और डिवाइस के जरिए पेपर सॉल्व करने की तैयारी में था। सरगना पवन ने पूछताछ में बताया कि वह अपने साथी आगरा निवासी कपिल व अलीगढ़ निवासी नेत्रपाल के साथ मिलकर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के जरिए पेपर सॉल्व कराने के नाम पर पांच से 10 लाख रुपये का कॉन्ट्रैक्ट लेता था। अब एसटीएफ कपिल व नेत्रपाल की तलाश में जुट गई है।

12 लाख में लेते थे पेपर पास कराने का कॉन्ट्रैक्ट
मथुरा के अलावा लखनऊ में एएसपी विशाल विक्रम सिंह के नेतृत्व में एसटीएफ टीम ने हरिहर नगर के विमलनगर एरिया में छापेमारी कर असली अभ्यर्थी की जगह परीक्षा दे रहे सॉल्वर बिहार निवासी संतोष कुमार को अरेस्ट किया। पूछताछ के दौरान आरोपी संतोष ने बताया कि उसे गैंग के सरगना अलीगंज निवासी निशांत प्रभाकर ने परीक्षा में बैठने के लिये हायर किया है। जानकारी मिलने पर एसटीएफ टीम ने निशांत को दबोच लिया। पकड़े जाने पर आरोपी निशांत ने बताया कि उसके गैंग के लोग पूरे राज्य में एक्टिव हैं। जो कि एग्जाम के कैंडिडेट तलाशकर एग्जाम पास कराने के लिये 10 से 12 लाख रुपये में डील करते हैं।

एग्जाम पास कराने के नाम पर ऐंठते थे पांच लाख रुपये
सॉल्वर्स गैंग के साथ ही एसटीएफ टीम ने आगरा में एग्जाम पास कराने का झांसा देकर ठगी करने वाले तीन जालसाजों को अरेस्ट कर लिया। एसएसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि आगरा यूनिट को इंफॉर्मेशन मिली थी कि न्यू आगरा एरिया स्थित ओवरब्रिज के नीचे कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों को पास कराने के नाम पर भोले-भाले अभ्यर्थियों को ठगने वाले गैंग के लोग मौजूद हैं। जानकारी मिलने पर टीम ने छापा मारकर वहां मौजूद मथुरा निवासी शिव कुमार, भुवनेश कुमार और कानपुर देहात निवासी सत्यम कटियार को अरेस्ट कर लिया। टीम ने उनके कब्जे से 42 हजार रुपये, दो आधार कार्ड, तीन वोटर कार्ड, तीन पैन कार्ड और दो फर्जी एडमिट कार्ड बरामद किये। पूछताछ के दौरान गैंग के मास्टरमाइंड भुवनेश कुमार ने बताया कि वे लोग अभ्यर्थियों को भर्ती परीक्षा पास कराने का झांसा देकर इसके एवज में 6 से 8 लाख रुपये ऐंठते हैं। रुपये वसूलने के बाद वे लोग फरार हो जाते हैं। एसएसपी सिंह ने बताया कि आरोपियों का अब तक किसी पेपर लीक या सॉल्वर्स गैंग से कोई लिंक सामने नहीं आया है।

जिला पुलिस ने भी की अरेस्टिंग

जिला अरेस्टिंग

आगरा 1

वाराणसी 3

मथुरा 2

लखनऊ 1

गाजीपुर 1

सहारनपुर 4

कानपुर नगर 2

फीरोजाबाद 1


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.