क्रिकेट इतिहास में 15 दिसंबर वनडे में बने 825 रन क्रिकेटर जिसने खेला देश के लिए टेनिस

2018-12-15T08:15:42+05:30

क्रिकेट इतिहास में 15 दिसंबर का दिन काफी यादगार है। यह वो दिन है जब एक वनडे मैच में 825 रन बने। वहीं इसी दिन एक ऐसे क्रिकेटर का जन्म हुआ जिसने अपने देश के लिए टेनिस भी खेला।

कानपुर। 15 दिसंबर का दिन क्रिकेट इतिहास के लिए कई मायनों में अलग है। इस दिन जहां वनडे इतिहास का सबसे चर्चित मैच खेला गया था। तो इसी दिन एक ऐसे क्रिकेटर का जन्म हुआ जिसने अपने देश के लिए टेनिस भी खेला। यह क्रिकेटर कोई और नहीं बल्कि पूर्व केन्याई क्रिकेटर अासिफ करीम हैं।

क्रिकेटर जिसने खेला टेनिस भी

15 दिसंबर 1963 को केन्या के मोसांबा शहर में जन्में आसिफ करीम मल्टी टैलेंटेड खिलाड़ी रहे हैं। करीम केन्या क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी रहे, हालांकि अपनी गेंदबाजी से उन्होंने काफी प्रभावित किया। करीम उन चुनिंदा क्रिकेटरों में शामिल हैं जिन्होंने तीन वर्ल्ड कप खेले हैं। करीम ने 1996, 1999 और 2003 वर्ल्ड कप में हिस्सा लिया था। यही नहीं 1999 वर्ल्ड कप में तो वह केन्या क्रिकेट टीम के कप्तान थे। करीम उस केन्याई क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे जिसने साल 2003 वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल में जगह बनाई। वर्ल्ड कप खिताब केन्याई टीम से बस एक कदम दूर था मगर सेमीफाइनल में उसे भारत के हाथों शिकस्त मिल गई। इस टूर्नामेंट में करीम ने अपनी गेंदबाजी से बड़ी-बड़ी टीमों को चकमा दिया। हालांकि इस मैच के बाद करीम ने अंतररार्ष्ट्रीय क्रिकेट को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। आपको जानकर हैरानी होगी कि करीम अपने देश के लिए टेनिस भी खेल चुके हैं। करीम ने साल 1988 में इजिप्ट के खिलाफ डेविस कप खेला था। इस दौरान उन्होंने दो सिंगल और एक डबल मैच में हिस्सा लिया।
वनडे मैच में बने 825 रन
9 साल पहले आज ही के दिन राजकोट में भारत बना श्रीलंका के बीच एक ऐतिहासिक वनडे मैच खेला गया था। इस मैच में मेहमान श्रीलंकन टीम 411 रन बनाने के बावजूद मैच हार गई थी। दरअसल श्रीलंका ने टाॅस जीतकर भारत को बल्लेबाजी का न्यौता दिया। भारतीय ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर मैदान में उतरे। सचिन को 69 रन बनाकर आउट हो गए मगर सहवाग ने श्रीलंकाई गेंदबाजों की खूब पिटाई की। वीरू ने इस मैच में 102 गेंदों पर 146 रन की पारी खेली, जिसके चलते भारत ने निर्धारित 50 ओवर में 414 रन का पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंकन टीम के लिए यह लक्ष्य असंभव सा था। सभी को लगा भारत यह मैच आसानी से जीत जाएगा मगर उस दिन दिलशान और संगकारा ने ऐसी पारी खेली कि भारतीय टीम के पसीने छूट गए। इस मैच में दिलशान ने 160 रन और संगकारा ने 90 रन बनाए। श्रीलंका को आखिरी ओवर में जीत के लिए 11 रन चाहिए थे, मगर इस थ्रिलिंग मैच में भारत को तीन रन से जीत गया।
जानें क्या होती है 'ड्राॅप इन' पिच, जिस पर खेला जा रहा भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया टेस्ट मैच

2018 में भारतीयों ने क्रिकेट से ज्यादा इस खेल को किया पसंद, ये हैं गूगल पर टाॅप 10 स्पोर्ट्स इवेंट


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.