पुलिस नहीं असरदार आप ही बनिए चौकीदार

2019-05-26T06:00:33+05:30

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक आवाज पर सोशल मीडिया पर आई थी चौकीदारों की बहार

इसी दौरान बनारस में हुई एक हजार के करीब चोरियों ने बढ़ाई असली चौकीदारों की जरूरत

VARANASI:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी सभा में खुद को चौकीदार क्या बताया, देश में सोशल मीडिया पर चौकीदारों की बहार आ गई। लेकिन इन चौकीदारों की सारी चौकीदारी धरी रह गई और चुनाव में फंसी पुलिस की मजबूरियों को देखते हुए चोरों ने जमकर हाथ साफ किया। हाल ये है कि बनारस में चोरी की वारदातों ने शतक ही बनाया, बल्कि एक हजार के करीब पहुंचने ही वाली हैं। ये तो तब है जब आधे से अधिक छोटी-मोटी चोरियों की सूचना पुलिस तक पहुंच ही नहीं पाती है। यदि उन्हें भी जोड़ दिया जाए तो वारदातों की संख्या डेढ़ हजार के करीब पहुंच जाएंगी। ऐसे में अब ये सवाल उठना लाजिमी है कि अब सोशल मीडिया पर ही मैं भी चौकीदार से काम नहीं चलेगा, सभी को खुद ही मोहल्लों और घरों की जिम्मेदारी उठाते हुए चौकीदारी करनी होगी। वैसे भी प्रधानमंत्री ने चुनाव बाद सभी के नाम के आगे से चौकीदार शब्द हटाकर इसे जीवन में शामिल करने की अपील भी कर ही दी है।

पुलिस चुनाव में, चोर चोरी में

पिछले डेढ़ माह में 30 से 35 चोरियां ताबड़तोड़ हुई हैं। किसी की दुकान से मोबाइल, लैपटॉप, कपड़ा, बिजली के सामान समेटे गए तो अधिकतर घरों का ताला तोड़कर भी कैश सहित लाखों के जेवर व अन्य घरेलू सामान चोरी किए गए। ऐसा इसलिए भी हुआ कि पिछले डेढ़ माह से फोर्स इलेक्शन ड्यूटी में व्यस्त थी और थाना पर इतनी फोर्स नहीं थी कि रात में गश्त जारी रखी जा सके।

शहर में दुकान, रूरल में मकान

इस दौरान एक तथ्य यह भी सामने आया है कि शहरी इलाकों में अधिक दुकानों में चोरी हुई तो ग्रामीण इलाकों में चोरों के निशाने पर सूने घर रहे। रोहनिया, जंसा, मिर्जामुराद, हरहुआ, बड़ागांव आदि इलाकों में अधिकतर घरों में चोरियां हुई। चेतगंज, भेलूपुर, लंका और सिगरा, कैंट, शिवपुर से लेकर सारनाथ इलाके के दुकानों में अधिक सेंधमारी हुई।

कप्तान ने लगाई फटकार

जनवरी से अब तक बनारस में चोरी के साढ़े नौ सौ से ज्यादा मामले सामने आए हैं। इनमें पांच सौ से ज्यादा घरों में चोरी की वारदातें शामिल हैं। खुलासे के नाम पर पुलिस दर्जन का आंकड़ा भी पार नहीं कर सकी है। गाहे-बगाहे एक या दो चोर पकड़ में आए तो उन्हीं पर कई अन्य मामले भी थोप दिए जाते हैं, जबकि बरामदगी के नाम पर भी कुछ भी नहीं होता है। एसएसपी आनंद कुलकर्णी भी पुलिस के इस खेल समझ गए हैं और पिछले दिनों उन्होंने बरामदगी को लेकर ही थानेदारों की क्लास लगाई थी।

पांच सौ से ज्यादा घरों में चोरी

पुलिस आकड़ों के अनुसार पूरे जिले में पांच सौ से ज्यादा चोरी की वारदातें हुई हैं। इनमें पांच लाख से अधिक की डेढ़ सौ से ज्यादा चोरी की वारदातें शामिल हैं। कैंटोनमेंट जैसे एरिया से लेकर पुलिस लाइंस तक के सरकारी घरों को भी चोरों ने निशाने पर रखा।

सबसे अधिक वाहन चोरी

बनारस जोन के दस जिलों में सबसे अधिक वाहन बनारस में चोरी हुए हैं। यह आंकड़ा पिछले साल भी सबसे अधिक था। इसके बावजूद वाहन चोरों पर पुलिस लगाम नहीं लगा पा रही है। यहां जनवरी से अब तक चार सौ से ज्यादा लोगों की बाइक व फोर व्हीलर चोरी हुई हैं।

मई माह में हुई चोरी की वारदातें

- शिवपुर थाना के परमानंदपुर में शिक्षक राजेश श्रीवास्तव के घर से कैश, आठ लाख के जेवर चोरी

- भदोही के कारोबारी आशीष कुमार से सिगरा थाना के मलदहिया के पास तीन लाख की छिनैती

- कैंट रोडवेज के पास जौनपुर के बादशाहपुर निवासी संतोष कुमार का 30 हजार रुपये से भरा बैग चोरी

- सारनाथ थाना के आशापुर चौराहे के पास बबलू कुमार के हार्डवेयर की दुकान से 20 हजार कैश सहित सामान की चोरी

- पुलिस लाइंस में सब इंस्पेक्टर सुदामा यादव के सरकारी आवास से दस हजार कैश, 30 हजार के जेवर सहित अन्य सामान चोरी

- कपसेठी थाना क्षेत्र के भिषमपुर में बाइक सवारों ने महिला सुषमा सिंह, सुनीता के गले से छीनी थी सोने की चेन

- चोलापुर थाना के महमूरपुर गांव में दुलारी देवी से बाइक सवार बदमाशों ने छिना था रुपयों से भरा बैग

- सिगरा थाना के सोनिया पुलिस चौकी के समीप बाइक सवार बदमाशों ने सब्जी खरीद रही महिला से की थी चैन छिनैती

- सारनाथ थाना के सिंहपुर गांव में कैलाशनाथ शुक्ला और रविकांत शुक्ला के मकान में चोरी, सवा लाख कैश और पांच लाख मूल्य के जेवर हुए थे चोरी

- रामनगर थाना के कवि टोला मोहल्ले में फर्नीचर शोरूम से दस हजार कैश सहित हजारों का माल चोरी

- बड़ागांव थाना के बिरांव गांव में दिव्यांग नवीन कुमार श्रीवास्तव के घर से नौ हजार कैश सहित लाखों के जेवर चोरी

- लंका थाना के डाफी स्थित अशोकपुरम कालोनी में रिटायर कृषि अधिकारी एनपी तिवारी की पत्‍‌नी गायत्री तिवारी संग चेन स्नेचिंग

- बड़ागांव के कोदई गांव निवासी अनिल कुमार के कपड़ा दुकान में 25 हजार कैश सहित लाखों की चोरी

- जंसा थाना के भाऊपुर बाजार में दंपत्ति को आंतकित कर दस हजार कैश सहित लाखों के जेवर चोरी

- कैंट थाना के हुकुलगंज स्थित सतीश सेठ के आरती ज्वेलर्स से लाखों रुपये की चोरी

- लंका थाना के सामनेघाट स्थित रत्‍‌नाकर विहार कालोनी निवासी शिक्षक राधेश्याम की कार घर के बाहर से चोरी

चोरी सहित अन्य घटनाओं की रोकथाम को लेकर थानेदारों को निर्देशित किया गया है। पुलिस आरोपियों को पकड़ भी रही है। अब इसमें और तेजी लाई जाएगी।

आनंद कुलकर्णी, एसएसपी

inextlive from Varanasi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.