कैम्पस में बढ़ी छींटाकशी हास्टल में अपराधी बेखौफ

2019-04-16T06:00:49+05:30

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में दबंगों का बोलबाला

जिम्मेदार बोले, ऐसा ही रहा तो वैध छात्रों का कैम्पस से हो जाएगा पलायन

vikash.gupta@inext.co.in

PRAYAGRAJ: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में इन दिनों दबंगों का बोलबाला बढ़ चला है। अपराधी किस्म के दबंगों का आतंक कैम्पस से लेकर हास्टल तक है। इनकी जड़ जमाती पैठ से अब विवि प्रशासन भी हलकान है। विवि ने एसएसपी को पत्र भेजकर मौजूदा हालातों से अवगत करवाया है। जिसमें कहा गया है कि यदि ऐसा ही रहा तो पढ़ने वाले छात्रों का कैम्पस से पलायन हो जाएगा।

सादी वर्दी में तैनात की जाए पुलिस

एसएसपी को पहली चिट्ठी बढ़ती छेड़छाड़ के संबंध में विवि प्रशासन ने 11 अप्रैल को भेजी थी। जिसमें कहा गया है कि विवि के मुख्य द्वारों पर घूमने वाले अराजक तत्वों पर नियंत्रण किए जाने की तत्काल जरुरत है। बताया गया है कि विवि की शिक्षण अवधि प्रात: 9:00 बजे से सायं 5:30 बजे तक है। इस अवधि में छात्राओं का आना जाना बना रहता है। आने जाने वाली छात्राओं के साथ अभद्रता, छींटाकसी और दु‌र्व्यवहार की सूचनाएं लगातार मिल रही हैं। ऐसे तत्वों पर अंकुश लगाने के लिए आदेश निर्गत करने और सादी वर्दी में पुलिस तैनात करने की मांग की गई है।

ताकि, छात्रावास छोड़कर भाग जाएं

उधर, छात्रावासों में भी अपराधियों का आंतक बढ़ चला है। इन्हें बाहर किए जाने के लिए भी एसएसपी से गुहार लगाई गई है। उन्हें सूचित किया गया है कि विवि के छात्रावासों में विगत कई दिनों से अपराधियों द्वारा घटनाएं की जा रही हैं। गुंडों और अपराधियों द्वारा आए दिन वैध छात्रों को डराया धमकाया जा रहा है। उन्हें इस बात के लिए भी भयाक्रांत किया जा रहा है कि वें छात्रावास छोड़कर भाग जाएं। पीसीबी छात्रावास के एक अन्त:वासी आदेश कुमार के द्वारा आलोक चौबे, रोहित शुक्ला उर्फ बेटू, आकाश शुक्ला, आदि अपराधियों के विषय में सूचना दी गई है और कठोर कार्यवाही की मांग की गई है।

डॉ। ताराचन्द छात्रावास के छात्रों द्वारा भी अनेक अज्ञात अपराधियों के विषय में इसी तरह की शिकायत की गई है। इन छात्रावासों को यदि ऐसे अपराधियों के आतंक से जल्द मुक्त नहीं कराया गया तो न केवल वैध छात्रों का पलायन शुरू हो जाएगा बल्कि अपराधियों के हौसले भी बुलंद होते जाएंगे।

प्रो। हर्ष कुमार,

डीएसडब्ल्यू

छात्रावासों से गुंडों एवं आपराधिक छवि के लोगों को बाहर हटाने तथा विश्वविद्यालय की सहायता के लिए सक्षम अधिकारियों के नेतृत्व में पर्याप्त पुलिस बल प्रदान करने की मांग के लिए पत्र लिखा गया है।

प्रो। राम सेवक दुबे,

चीफ प्रॉक्टर

इनको भेजी गई है जानकारी

अपर जिलाधिकारी नगर

पुलिस अधीक्षक नगर

क्षेत्राधिकारी नगर चतुर्थ

प्रभारी निरीक्षक थाना कर्नलगंज

चौकी प्रभारी इलाहाबाद विश्वद्यिालय

विवि कुलपति के सचिव

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.