यूपी अब फोन कॉल नहीं वाट्सएप पर साइबर ठगों ने बिछा लिया जाल

2018-12-13T11:18:14+05:30

वाट्सअप पर भेज रहे लुभावने मैसेज झांसे में आने वाला गंवा रहे अपनी गाढ़ी कमाई।

kanpur@inext.co.in
KANPUR : नमस्कार, मैं 'एबीसी' कंपनी से बोल रहा हूं। आपका मोबाइल नंबर 'खरीदो-जीतोÓ स्कीम के तहत लकी ड्रा के माध्यम से चुना गया है और आपको 25 लाख रुपए का लॉटरी लगी है। ऐसे ही कुछ मिलते जुलते शब्दों को कई लोगों ने अपने मोबाइल फोन पर आने वाली कॉल में सुना होगा, लेकिन, अब फोन कॉल नहीं कुछ ऐसे ही मैसेज आपको वाट्सएप पर किसी अनजान नंबर से मिल सकते हैं। साइबर ठगों ने अब वाट्सएप के जरिए लोगों को ठगने के लिए बड़े स्तर पर ट्रैप लगा रखा है, जिसमें खासकर साउथ सिटी के बाशिंदे फंस कर अपनी गाढ़ी कमाई गंवा रहे हैं।
वाट्सएप बना आसान तरीका
एसपी साउथ रवीना त्यागी के अनुसार पहले साइबर ठग अक्सर लोगों को फोन कॉल कर अपनी बातों में फंसा कर ठग लेते थे। ऐसी हजारों घटनाओं के बाद लोग कुछ जागरूक हुए तो साइबर ठगों ने वाट्सएप पर लोगों को लुभावने ऑफर देकर उनसे रकम ऐंठ रहे हैं।
भूल कर न करें ये गलती
* वाट्सएप पर किसी भी अनजान नंबर पर रिप्लाई जब बहुत जरूरी हो तभी करें।
* किसी अनजान नंबर से कोई लिंक वाट्सएप पर आए तो उस पर क्लिक न करें।
* वाट्सएप पर कोई मैसेज भेज कर ईनाम या लकी ड्रा का लालच दे तो अलर्ट हो जाएं।
* वाट्सएप मैसेज करने वाला आपसे वाइस कॉल करने से कतराए तो उस पर शक करें।
क्या करना चाहिए
* अनजान नंबर से वाट्सएप पर बार बार लुभावने मैसेज आएं तो नंबर को तुरंत ब्लॉक कर दें।
* अगर ठगी हो जाए तो पुलिस स्टेशन में संपर्क करें। एसपी या आलाधिकारियों से कंप्लेन करें।
* वाट्सएप पर भेजे जाने वाले लुभावने मैसेज पढऩे व लिंक पर क्लिक करने से बचना चाहिए।
साइबर ठगी के नए मामलों में लोग खुद ही ठगों के झांसे में आकर उनके बताए गए अकाउंट पर रकम ट्रांसफर कर देते हैं। ऐसे में लोगों को घटनाओं से बचने के लिए जागरूक होना होगा।
रवीना त्यागी, एसपी साउथ

आईबी में नौकरी का झांसा देकर 72 लाख की ठगी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.