म्यांमार भयानक बाढ़ से अब तक 12 की मौत करीब डेढ़ लाख लोग लापता

2018-08-01T03:40:14+05:30

म्यांमार में भारी बारिश के चलते आई बाढ़ से अब तक लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा करीब डेढ़ लाख लोग लापता हैं।

नेपिदाव आईएएनएस)। म्यांमार में भारी बारिश के चलते आई बाढ़ से लोगों का जीवन तबाह हो गया है। अब तक इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 12 हो गई है। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि इस भयानक बाढ़ में 148,000 लोग लापता हो गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, म्यांमार में जुलाई के मध्य से बारिश शुरू हुई है और बाढ़ से सबसे अधिक म्यांमार का बागो और मगवाय इलाका प्रभावित हुआ है, वहां के करीब 94,000 लोगों को 157 केंद्रों में आश्रय दिया गया है।
अधिक बारिश होने की आशंका
इसके अलावा अगर अन्य बाढ़ प्रभावित प्रांतों की बात करें तो कचिन में 25,000 से अधिक लोग, मून राज्य में 15,884 लोग और तानिंथरी के दक्षिणी क्षेत्र में 5,895 लोग प्रभावित हुए हैं। म्यांमार के मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में और अधिक बारिश होने की आशंका जताई है। बता दें कि इससे पहले म्यांमार में 2015 में एक भयानक बाढ़ देखी गई थी, उस वक्त इससे लगभग 100 लोगों की मौत हुई थी और करीब 330,000 लोग प्रभावित हुए थे। इससे भी पहले 2008 में, चक्रवात नर्गिस ने देश को बर्बाद किया था। इस चक्रवात से 138,000 लोग मारे गए थे, 800,000 लोग बेघर हुए थे और 25 लाख लोग प्रभावित हुए थे।
कई आश्रयों का व्यवस्था
राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति (एनडीएमसी) ने बताया है कि कई लापता लोगों को खोजकर एक अस्थायी आश्रयों में शिफ्ट कर दिया गया है, इसके अलावा प्रभावित क्षेत्रों में मौजूद सभी प्रकार के आश्रयों को बाढ़ पीड़ितों के लिए खोल दिया गया है। इसके बाद समिति ने यह भी कहा कि गर्भवती महिलाओं और छोटे बच्चों के साथ वाली महिलाओं को किसी प्रकार दिक्कत न हो, इसके लिए अतिरिक्त आश्रय का व्यवस्था किया गया है।

म्यांमार में बाढ़ का कहर, 10 की मौत और लाखों लोग लापता

म्यांमार में लोकतंत्र का चेहरा रहीं ये महिला, अपने देश के खातिर दस से अधिक सालों तक रहीं नजरबंद


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.