गजब है डीजी होमगार्ड का रिटायरमेंट प्लान सीएम से मांगा योजना आयोग का उपाध्यक्ष पद

2018-08-28T02:05:45+05:30

डीजी होमगार्ड डॉ सूर्य कुमार शुक्ल एक बार फिर विवादों में घिर गये हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपना रिटायरमेंट प्लान भेजकर अपने साथ सरकार की भी मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : डीजी होमगार्ड डॉ. सूर्य कुमार शुक्ल ने पत्र में मुख्यमंत्री के कामकाज की दिल खोलकर प्रशंसा करने के साथ इसमें सहयोगी बनने की इच्छा जताई है। साथ ही योजना आयोग के उपाध्यक्ष, राज्य समाज कल्याण बोर्ड, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड या उप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड में अध्यक्ष बनने की इच्छा भी जता दी है। इतना ही नहीं, उन्होंने रिटायरमेंट के बाद पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करने का दम भी भरा है हालांकि उनके इस पत्र को लेकर राज्य सरकार से लेकर शासन स्तर पर खासी नाराजगी जताई जा रही है।
 
पांच दिन बाद होंगे रिटायर
दरअसल सूर्य कुमार शुक्ल आगामी 31 अगस्त को रिटायर हो रहे हैं। यही वजह है कि वे रिटायर होने के बाद भी सरकार का हिस्सा बने रहना चाहते हैं। विगत 23 अगस्त को उन्होंने मुख्यमंत्री को एक पत्र भेजा।

पहले भी की विवादित हरकतें

डीजी होमगार्ड इससे पहले भी अपनी हरकतों से विवादों में घिर चुके हैं। सूबे में योगी सरकार बनने के बाद एक एनजीओ के कार्यक्रम में उन्होंने राम मंदिर निर्माण की शपथ ली थी जिसकी आलोचना ऑल इंडिया आईपीएस एसोसिएशन ने भी की थी। वहीं सपा सरकार में मुख्यमंत्री आवास पर हुए कार्यक्रम में उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तारीफ के पुल भी बांधते हुए कहा था कि वे आजीवन अखिलेश को ही इस कुर्सी पर विराजमान देखना चाहते हैं।

सूर्य कुमार शुक्ल का लिखा पत्र

मैं आपको अपना मार्गदर्शक एवं आदर्श मानते हुए रिटायर होने के बाद सार्वजनिक जीवन में रहते हुए सामाजिक कार्य करना चाहता हूं। मुझे आपके संगठन के कार्यों एवं उसकी विचारधारा में पूर्ण निष्ठा एवं विश्वास है। रिटायर होने के बाद मुझे जो पेंशन मिलेगी वह मेरे और मेरे परिवार के भरण-पोषण के लिए पर्याप्त होगी। मुझे पता चला है कि वर्तमान में कई पद खाली हैं, इनमें से किसी पद पर मुझे नियुक्त कर देने से मैं आपका सक्रिय सहयोग करने की स्थिति में आ जाऊंगा एवं मेरे आने-जाने, अतिथि गृहों में रुकने एवं कार्य करने के लिए आपका एक प्रतीक चिन्ह मिल जाएगा।
- डॉ. सूर्य कुमार शुक्ल
कोई टिप्पणी करना उचित नहीं
सरकार को भेजा गया पत्र विभागीय और गोपनीय होता है लिहाजा इस पर कोई टिप्पणी करना उचित नहीं है। मैंने फिलहाल कोई पार्टी ज्वाइन करने के बारे में अंतिम निर्णय नहीं लिया है। इस बारे में सीनियर्स से राय-मशविरा करने के बाद ही कोई ठोस फैसला लूंगा।
डॉ. सूर्य कुमार शुक्ल, डीजी, होमगार्ड संगठन

रिटायरमेंट की उम्र तक पीएचडी के लिए एनरॉल करा सकेंगे टीचर्स

रिटायर्ड कर्नल केस : एडीएम को नहीं मिली राहत, पीसीएस एसोसिएशन ने सीएम से मांगा समय

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.