जमशेदपुर में डॉक्टरों की हड़ताल आज

2019-06-17T10:32:15+05:30

पश्चिम बंगाल में हुई घटना के विरोध में जमशेदपुर के महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज अस्पताल टाटा मुख्य अस्पताल टाटा मोटर्स मेडिका सहित सभी बड़े और छोटे अस्पतालों के हड़ताल पर रहने की सूचना है।

JAMSHEDPUR: सोमवार को पूर्वी सिंहभूम जिले के सभी सरकारी व निजी अस्पतालों के ओपीडी बंद रहेंगे। सिर्फ इमरजेंसी सेवा ही बहाल रहेगी। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के सचिव डॉ। मृत्युंजय सिंह ने कहा कि पश्चिम बंगाल में हुई घटना के विरोध में यह आंदोलन किया जा रहा है। कहा कि जब चिकित्सक ही सुरक्षित नहीं है तो वह इलाज क्या करेंगे। इसे देखते हुए महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज अस्पताल, टाटा मुख्य अस्पताल (टीएमएच), टाटा मोटर्स, मेडिका सहित सभी बड़े-छोटे अस्पतालों के ओपीडी को बंद करने का आग्रह किया गया है। सुबह छह बजे से अगले दिन सुबह छह बजे तक सभी ओपीडी बंद रहेंगे। एमजीएम अस्पताल में विरोध प्रदर्शन करने के बाद उपायुक्त कार्यालय तक एक रैली निकाली जाएगी।

हुआ है जानलेवा हमला

गौरतलब हो कि कोलकाता स्थित एनआरएसएनसीएच मेडिकल कॉलेज व बीएमसी मेडिकल कॉलेज में दो जूनियर डॉक्टरों पर जानलेवा हमला किया गया है। बीएमसी मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में वहां के लोगों द्वारा बिजली, पानी का भी कनेक्शन काटा जा रहा है। एनआरएसएनसीएच मेडिकल कॉलेज में 85 वर्षीय एक बुजुर्ग की मौत हो गई थी। जिसके बाद परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए उनके साथ मारपीट की गई थी।

हड़ताल को लेकर एमजीएम में मीटिंग

डॉक्टरों के हड़ताल को लेकर रविवार को एमजीएम कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ। एसी अखौरी ने एक बैठक बुलाई। प्रिंसिपल ने घटना पर दुख जताते हुए कहा कि मरीजों को परेशानी न हो, इसका ध्यान भी रखना होगा। इसलिए सभी विभागाध्यक्षों को अलर्ट रहना होगा। जिस विभाग से संबंधित गंभीर रोगी आते हैं, उन्हें तत्काल इलाज मिले सके। वहीं इमरजेंसी विभाग में डॉक्टरों की तैनाती व अधिक से अधिक दवाएं रखने का निर्देश दिया गया है। बैठक में एमजीएम अधीक्षक डॉ। अरुण कुमार, उपाधीक्षक डॉ। नकुल प्रसाद चौधरी सहित सभी विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.